ताज़ा खबर
 

हरियाणा में भाजपा बहुमत की ओर अग्रसर

चंडीगढ़। हरियाणा में पहली बार अपने दम पर विधानसभा चुनाव लड़ रही भाजपा बहुमत की ओर बढ़ रही है। राज्य में कांग्रेस से सत्ता छीनने के लिए प्रयासरत भाजपा, विधानसभा चुनाव के लिए हो रही मतगणना के अब तक मिले रूझान के अनुसार बहुमत की ओर बढ़ रही है। प्रतीत होता है कि राज्य में […]

Updated: October 19, 2014 12:46 PM

चंडीगढ़। हरियाणा में पहली बार अपने दम पर विधानसभा चुनाव लड़ रही भाजपा बहुमत की ओर बढ़ रही है।
राज्य में कांग्रेस से सत्ता छीनने के लिए प्रयासरत भाजपा, विधानसभा चुनाव के लिए हो रही मतगणना के अब तक मिले रूझान के अनुसार बहुमत की ओर बढ़ रही है। प्रतीत होता है कि राज्य में वंशवाद की राजनीति को गहरा झटका लगा है।
अब तक मिले रूझान बताते हैं कि भाजपा राज्य की 32 सीट पर आगे है जबकि इनेलो 12, कांग्रेस सात, बसपा एक, हरियाणा लोकहित पार्टी एक, इनेलो की सहयोगी शिरोमणि अकाली दल एक तथा निर्दलीय छह सीट पर आगे चल रहे हैं।
राज्य में कुल 90 विधानसभा सीट हैं।
मतगणना के शुरूआती रूझान संकेत देते हैं कि राज्य आधारित हरियाणा के बड़े राजनीतिक दलों के लिए सब कुछ अच्छा नहीं है। जेल में बंद इनेलो अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला के परिवार के सदस्य अपनी अपनी सीटों पर पीछे चल रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल के परिवार के लोगों के साथ भी लगभग यही स्थिति है।
इनेलो के महासचिव और चौटाला के छोटे भाई अभय चौटाला अपने परंपरागत गढ़ इलेनाबाद में भाजपा के पवन बेनीवाल से पीछे चल रहे हैं।
उचाना कलां सीट पर सांसद और इनेलो प्रत्याशी दुष्यंत चौटाला भाजपा नेता बीरेन्दर सिंह की पत्नी प्रेम लता से पीछे चल रहे हैं।
चौटाला के बड़े पुत्र अजय सिंह ने डबवाली सीट से अपनी पत्नी नैना को प्रत्याशी बनाया। बहरहाल, नैना इस सीट पर कांग्रेस के कमलवीर सिंह और भाजपा के देव कुमार से पीछे चल रही हैं।
ओमप्रकाश चौटाला और अजय सिंह शिक्षक भर्ती घोटाला में दोषी ठहराए जाने के बाद जेल में बंद हैं।

 

Next Stories
1 विधानसभा चुनाव: हरियाणा में पहले 6 घंटे में 35 प्रतिशत से अधिक मतदान
2 सिरसा में गोलीबारी में दो घायल
3 भाजपा ने हरियाणा में ‘मिशन 60 प्लस’ लक्ष्य के साथ शुरू किया अभियान
ये पढ़ा क्या?
X