ताज़ा खबर
 

मोदी का इंटरव्यू लेने वाले पत्रकार का दावा- बातचीत से पहले ही मंगवा लिए गए थे सवाल

पत्रकार का नाम बॉबी नकवी है। उन्‍होंने कथित तौर पर पीएम नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू पिछले साल स्‍वतंत्रता दिवस के बाद उनके यूएई दौरे से पहले लिया था।

Author नई दिल्‍ली | June 30, 2016 3:04 PM
बॉबी नकवी ने अपने फेसबुक पोस्‍ट में अनुभव साझा किए हैं।

टाइम्‍स नाऊ के एडिटर इन चीफ अरनब गोस्‍वामी द्वारा पीएम के लिए गए इंटरव्यू पर जारी बहस के बीच यूएई में रहने वाले एक जर्नलिस्‍ट ने मोदी का इंटरव्यू लेने का अनुभव फेसबुक पर शेयर किया है। इनका नाम बॉबी नकवी है। उन्‍होंने कथित तौर पर पीएम नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू पिछले साल स्‍वतंत्रता दिवस के बाद उनके यूएई दौरे से पहले लिया था। बता दें कि मोदी ने टाइम्‍स नाऊ को जो इंटरव्यू दिया है, वो 2014 में उनके सत्‍ता में आने के बाद किसी भारतीय न्‍यूज चैनल को दिया पहला इंटरव्यू है। पीएम मोदी बीते दो सालों में भारतीय पत्रकारों से बातचीत करने और उन्‍हें इंटरव्यू देने से बचते रहे हैं।

READ ALSO: क्‍या होता अगर 2016 के मोदी से 2014 वाले अर्नब गोस्‍वामी का होता सामना

अपने फेसबुक पोस्‍ट की शुरुआत में ही बॉबी ने लिखा है कि इस इंटरव्यू के लिए अरेंजमेंट करना ही ‘एक लंबी और बोझिल प्रक्रिया’ थी। उन्‍होंने लिखा है, ‘कई दिनों तक नौकरशाहों से कई र्इमेल्‍स के आदान-प्रदान के बाद मुझे एक बेहद सीनियर अफसर का कॉल आया। उन्‍होंने कहा, ‘बॉबी, मेरे पास अच्‍छी और बुरी खबर दोनों है। आप कौन सी न्‍यूज पहले सुनना चाहोगे।’ मुझे समझ में नहीं आया कि क्‍या कहूं। इससे पहले कि मैं बोल पाता, उन्‍होंने कहा कि ‘पीएम राजी हो गए हैं।’ उसके बाद उन्‍होंने जिक्र किया कि दो अन्‍य प्रकाशन वाले भी मौजूद होंगे। मैं बेहद निराश हो गया क्‍योंकि अब यह एक एक्‍सक्‍लूसिव इंटरव्यू नहीं होने वाला था।’

नकवी ने फेसबुक पोस्‍ट में इसके बाद विस्‍तार से लिखा है कि कैसे उन्‍हें ‘पूर्व स्‍वीकृति’ के लिए सवाल भेजने के लिए कहा गया। इसके अलावा, उन्‍हें कितने सिक्‍युरिटी से जुड़ी प्रक्रियाओं से गुजरना पड़ा ताकि उन्‍हें मुंहमांगा इंटरव्यू मिल सके। नकवी और अन्‍य पत्रकारों को इंटरव्यू से कुछ मिनट पहले बताया गया कि वे सिर्फ एक सवाल पूछ सकते हैं और बाकी उन्‍हें इंटरव्यू के बाद लिखित में मिल जाएंगे।

बॉबी की फेसबुक पोस्‍ट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories