ताज़ा खबर
 

कुछ पल देर से आए तो वर्चुअल सुनवाई में जज को नहीं मिली एंट्री, वकीलों को लगानी पड़ी गुहार

जिस केस की सुनवाई के दौरान यह वाकया हुआ वह ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कथित कालाबाजारी में आरोपी व्यापारी नवनीत कालरा से जुड़ा हाईप्रोफाइल मामला था।

Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: May 15, 2021 9:54 AM
दिल्ली हाईकोर्ट में वर्चुअल सुनवाई के दौरान आई दिक्कत। (फोटो- FreePik)

कोरोनावायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच देश की अदालतों ने भी काम जारी रखने के लिए वर्चुअल सुनवाई का रास्ता अपनाया है। पिछले करीब एक साल से सुप्रीम कोर्ट से लेकर अलग-अलग राज्यों में हाईकोर्ट तक विभिन्न मामलों को ऑनलाइन ही सुन रहे हैं। हालांकि, कई बार वर्चुअल सुनवाई के दौरान मजेदार या अजीब वाकये हुए हैं। ऐसा ही एक वाकया शुक्रवार को दिल्ली हाईकोर्ट में हो गया। यहां एक हाई-प्रोफाइल केस की सुनवाई के लिए वर्चुअल स्पेस इतना भर गया कि मामले की सुनवाई कर रही जज को ही एंट्री नहीं मिल पाई।

जिस केस की सुनवाई के दौरान यह वाकया हुआ वह ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कथित कालाबाजारी में आरोपी व्यापारी नवनीत कालरा से जुड़ा था। दिल्ली हाईकोर्ट को उनकी अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई करनी थी। हालांकि, वर्चुअल कोर्टरूम में सुनवाई के बारे में जानने वाले लोगों की संख्या इतनी ज्यादा थी कि जज जस्टिस सुब्रमण्यम प्रसाद को ही बेंच के साथ जुड़कर ऑनलाइन होने का मौका नहीं मिला।

बताया गया है कि जज सुनवाई के लिए थोड़ी देर से पहुंचे थे, इसके चलते ‘पहले आओ, पहले पाओ’ व्यवस्था वाली वर्चुअल हियरिंग में पहले ही क्षमता के मुताबिक लोग जुड़ चुके थे। ऐसे में जब कई कोशिशों के बाद भी जज बेंच से नहीं जुड़ पाए, तो इस मामले से जुड़े वकीलों ने वर्चुअल हियरिंग से जुड़े लोगों से अपील की कि जिनका भी केस से वास्ता नहीं है, वे चले जाएं, ताकि जज की एंट्री कराई जा सके।

असल सुनवाई में ही नहीं, वर्चुअल सुनवाई में भी ठसाठस भरे कोर्ट: बता दें कि पिछले साल कोरोना महामारी शुरू होने के बाद ही अदालतों ने वर्चुअल हियरिंग का रास्ता अपनाना शुरू किया था। माना जा रहा था कि इस तरह केस की सुनवाई करना आसान होगा और असल जीवन में ठसाठस भरे रीयल कोर्टरूम के उलट इसमें सिर्फ केस से जुड़े लोग ही शामिल होंगे। हालांकि, कई हाईप्रोफाइल केसों में पत्रकार, वकीलों के सामने होने की वजह से अब सीमित क्षमता वाली वर्चुअल हियरिंग में भी भीड़ इकट्ठा होने की दिक्कत सामने आई है।

Next Stories
1 शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 3,25,730 नए मामले आए, महाराष्ट्र में कवक संक्रमण से अब तक 52 की मौत
2 हैदराबाद में लगाया गया स्पूतनिक का पहला टीका
3 गांवों में तेजी से फैल रहा कोरोना संक्रमण : मोदी; प्रधानमंत्री ने कहा, महामारी से लड़ने के लिए युद्धस्तर पर काम
यह पढ़ा क्या?
X