हालात बेकाबू हुए तो नीतीश ने लगाया रात 9 से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू, केंद्र बोला- लॉकडाउन में न रुके वैक्सीनेशन

नीतीश कुमार ने कहा कि हमारे जितने भी चिकित्साकर्मी हैं उनको एक महीने का अतिरिक्त वेतन दिया जाएगा।

CORONA, BIHAR LOCKDOWN, CM NITISH KUMAR, JHARKHANDबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस फाइल)

बिहार में कोरोना संक्रमण के बिगड़ते हालात के मद्देनजर सरकार ने फैसला लिया है कि 15 मई तक राज्य में नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा। 15 मई तक बिहार में मॉल, सिनेमाघर और पार्क भी बंद रहेंगे। इधर स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों से कहा है कि कोरोना से बचने के लिए लगाए जा रहे है लॉकडाउन के दौरान वैक्सीनेशन की रफ्तार कम नहीं हो इसके लिए जरूरी कदम उठाया जाए।

बिहार में रविवार शाम नीतीश कुमार की अध्यक्षता में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक हुई। जिसमें फैसला लिया गया कि 15 मई तक कॉलेज, कोचिंग संस्थान एवं अन्य शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। इस अवधि में राज्य सरकार के विश्वविद्यालयों द्वारा किसी भी तरह की परीक्षाएं नहीं ली जाएंगी। सभी सिनेमा हॉल , मॉल, क्लब, जिम, पार्क एवं उद्यान को 15 मई तक के लिए पूरी तरह से बंद कर दिया जाएगा।

मीडिया से बात करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि खबर आई है RT-PCR रिपोर्ट 3-4 दिन में आ रही है। कहीं-कहीं खबर मिली कि रिपोर्ट एक सप्ताह बाद आई है। इसे जल्दी से प्राप्त किया जाए ताकि समय से इलाज शुरू हो जाए। इसके बारे में बहुत ठोस निर्णय लिया गया है। ऑक्सीजन की आपूर्ति हर हाल में समय पर की जाएगी, इस पर बात हुई है।

कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा: नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना के मामले प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं। आज अभी कुछ देर पहले तक की रिपोर्ट है कि आज ही एक दिन में 8,690 नए मामले सामने आए। विमर्श करने के बाद काफी कुछ निर्णय लिया गया है। कुछ इलाकों को कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा।

नीतीश कुमार ने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर किसी भी प्रकार के आयोजन पर रोक रहेगी लेकिन यह दफन, दाह संस्कार और पूजा पर लागू नहीं होगा। दफन और दाह संस्कार के लिए लोगों की संख्या घटाकर 25 की गई है। शादी और श्राद्ध में लोगों की संख्या घटाकर 100 की गई है।नीतीश कुमार ने राज्य से बाहर रहने वाले लोगों से कहा कि हम लोगों का अनुरोध है कि जितना जल्दी से जल्दी हो सके लौट आएं। हम लोगों का यह आग्रह है। हम लोगों की तरफ से जो भी सहयोग संभव है, हम करेंगे लेकिन आ जाएं क्योंकि जितना देर करेंगे कठिनाईयां बढेंगी।

Next Stories
1 गुजरात के कोरोना अस्पताल का भयानक दृश्य, तीन दिनों तक मरीजों के बीच पड़ा रहा लाशों का ढ़ेर
2 मनमोहन की मोदी से अपीलः आंकड़ेबाजी की बजाए ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाने की व्यवस्था करे सरकार
3 7th Pay Commission: खुशखबरी! इन कर्मचारियों को बढ़कर मिलेगी तनख्वाह, जानें- कैसे?
यह पढ़ा क्या?
X