जब चुनाव हार गए थे तब कहां थी संवेदना?- पूछने लगे ऐंकर, टिकैत का जवाब- हम तो 40 बार से अधिक जेल गए हैं

जब एंकर ने राकेश टिकैत से सवाल किया कि यह आंदोलन जन आंदोलन क्यों नहीं बन रहा है? देश के हर जगह से आवाज क्यों नहीं आ रही है? राकेश टिकैत ने कहा कि आप हर आंदोलन को नहीं दिखाते हो, झारखंड, कर्नाटक जैसे राज्यों में जब किसान आंदोलन करता है तो आप नहीं दिखाते हो।

Farmer Protest, Journalist
किसान नेता राकेश टिकैत (फोटो सोर्स – पीटीआई)

रविवार को मुजफ्फरनगर में होने वाले किसान महापंचायत की तैयारी जारी है। इस बीच एबीपी न्यूज के साथ बात करते हुए राकेश टिकैत ने कई सवालों के जवाब दिए हैं। जब एंकर ने उनसे पूछा कि पूरी दुनिया जानती है कि आप चुनाव लड़े थे और अपनी जमानत नहीं बचा पाए थे, तब आपकी किसानों को लेकर संवेदना कहा थी? जवाब देते हुए टिकैत ने कहा कि हम तो 40 बार से अधिक जेल जा चुके हैं।

टिकैत ने कहा कि आप 2002 में कहा थे? जब हमने सांसद भवन के गेट पर ताले लगा दिए थे। आप वो क्लिप निकाल कर दिखाओ, हम तो ये लड़ाई 35 साल से लड़ रहे हैं। आपमें दिखाने की हिम्मत होनी चाहिए। हम 40 बार जेल जा चुके हैं। बीजेपी पर हमला करते हुए टिकैत ने कहा कि जो घोषणा-पत्र में था वो इन्होंने किया नहीं, पर दूसरे काम जरूर कर दिए। उन्होंने कहा कि अब देश में भाजपाई हैं कहा ये कंपनी की सरकार है।

जब एंकर ने राकेश टिकैत से सवाल किया कि यह आंदोलन जन आंदोलन क्यों नहीं बन रहा है? देश के हर जगह से आवाज क्यों नहीं आ रही है? राकेश टिकैत ने कहा कि आप हर आंदोलन को नहीं दिखाते हो, झारखंड, कर्नाटक जैसे राज्यों में जब किसान आंदोलन करता है तो आप नहीं दिखाते हो।

महापंचायत में होगी भारी भीड़’: किसान नेता राकेश टिकैत ने रविवार को होने वाली किसान महापंचायत को लेकर कहा है कि इस कार्यक्रम में कितने किसान पहुंचेंगे यह बता पाना संभव नहीं है। लेकिन काफी बड़ी संख्या में किसान इस महापंचायत में शामिल होंगे और उन्हें इस कार्यक्रम में शामिल होने से कोई नहीं रोक सकता है और अगर रोकने का प्रयास किया जाएगा तो हम तोड़कर आगे बढ़ जाएंगे।

सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त: केंद्रीय कृषि कानूनों सहित किसानों से जुड़े मुद्दों पर रविवार को होने वाली ‘किसान महापंचायत’ के लिए प्रांतीय सशस्त्र कांस्टेबुलरी (पीएसी) की छह कंपनियां और रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की दो कंपनियां तैनात की जाएंगी। सहारनपुर रेंज के पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) प्रीतिंदर सिंह ने शनिवार को कहा कि कार्यक्रम की वीडियोग्राफी कराई जाएगी जबकि पांच वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी), सात अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) और 40 पुलिस निरीक्षक सुरक्षा ड्यूटी पर तैनात रहेंगे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट