कोरोनाः बिहार में रद्द कर दिया, पर UP में हो रहा है पंचायत चुनाव- बोलीं कांग्रेस नेत्री; BJP नेता ने कहा- 1 साल से महाराष्ट्र, राजस्थान और छत्तीसगढ़ सरकारें क्या कर रही थी?

सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि इस समय जब कोरोना से देश की हालत खराब है। ऐसे में ये सवाल तो बनता है कि पिछले एक साल में देश में क्या काम हुए हैं?

sambit patra, supriya shrinate, news 18, sambit patra in tv debate show, rahul gandhi, rahul gandhi on democracy, rahul gandhi on indian democracy, v dem, freedom house democracy report, narendra modi,कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा।

भारत में कोरोना के लगातार 3 लाख से अधिक केस सामने आ रहे हैं। इस बीच पक्ष और विपक्ष के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है। आजतक चैनल पर एक शो में कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि बिहार में पंचायत चुनाव रद्द कर दिया गया लेकिन यूपी में चुनाव जारी है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने पलटवार करते हुए सवाल किया कि 1 साल से महाराष्ट्र, राजस्थान और छत्तीसगढ़ सरकारें क्या कर रही थी?

सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि इस समय जब कि कोरोना से देश की हालत खराब है। ऐसे में ये सवाल तो बनता है कि पिछले एक साल में देश में क्या काम हुए हैं? साथ ही उन्होंने सवाल किया कि 22 करोड़ की जनसंख्या वाले उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव हो रहा है। बिहार में पंचायत चुनाव रद्द हो गया। उत्तर प्रदेश में कितना अधिक संक्रमण फैल सकता है। बंगाल में हर दूसरा व्यक्ति संक्रमित पाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में भी हालात काफी खराब हैं।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट कहती है लॉकडाउन लगा दो सरकार कहती है नहीं लगाएंगे। अभी भी राजनीति की जा रही है। साथ ही उन्होने आरोप लगाया कि सरकार की तरफ से एक के बाद एक जन विरोधी नियम बनाए जा रहे हैं। लोगों को परेशान करने के लिए कुछ भी अभी नहीं होना चाहिए।

संबित पात्रा ने कहा कि जब लॉकडाउन लगाया गया था तब कांग्रेस पार्टी की तरफ से ट्वीट किया गया था कि यह तुगलकी लॉकडाउन है। लॉकडाउन कोई समाधान नहीं है। लॉकडाउन लगाओ तो क्यों लगाया? अब नहीं लगाया गया तो सवाल है कि क्यों नहीं लगाया गया?

साथ ही उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की सरकार, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की सरकार क्या कर रही थी? महाराष्ट्र सरकार की गलती के कारण पूरे देश में कोरोना फैला। आज सबसे अधिक लोग महाराष्ट्र में मर रहे हैं। महाराष्ट्र सरकार की गलती सजा पूरे देश को भुगतना पड़ा है। भारत सरकार की तरफ से इन राज्यों को 7-8 पत्र भेजे गए थे।

Next Stories
1 कोरोनाः ‘दूसरी लहर को EC जिम्मेदार, अफसरों पर हो मर्डर केस’, मद्रास HC ने चेताया- प्रोटोकॉल का पालन न हुआ तो 2 मई को रुकवा देंगे मतगणना
2 कोरोनाः विदेशी अखबार ने लिखा- अहंकार, अंध-राष्ट्रवाद और अयोग्य नौकरशाही ने भारत को तबाही में झोंका; रवीश कुमार बोले- किसके घमंड की बात हो रही है, बताने की जरूरत नहीं
3 कोरोनाः दिल्ली में सबको मिलेगा मुफ्त टीका; घोषणा कर बोले CM- केंद्र को 150 में, पर हमें 400 या 600 की मिल रही वैक्सीन
यह पढ़ा क्या?
X