ताज़ा खबर
 

‘अमेठी में मुझे शूट कर दिया जाएगा…’, जब स्मृति ईरानी को था ये डर, फिर पति ने बनाया था बचाने का प्लान- किताब में दावा

2014 के लोकसभा चुनाव से पहले वे अमेठी में प्रचार कर रही थी। इस दौरान उन्हें गोली मारने की धमकी दी गई थी। तब उनके पति ने उन्हें बचाने का एक खास प्लान बनाया था। इस बात का खुलासा एक किताब में किया गया है।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: December 28, 2020 2:59 PM
Amethi,BJP, zubin irani, Rahul Gandhi,Smriti Irani, jansattaकेंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और उनके पति ज़ुबिन ईरानी। (file)

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को कथित तौर पर जान से मारने की धमकी दी गई थी। 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले वे अमेठी में प्रचार कर रही थी। इस दौरान उन्हें गोली मारने की धमकी दी गई थी। तब उनके पति ने उन्हें बचाने का एक खास प्लान बनाया था। इस बात का खुलासा एक किताब में किया गया है।

वरिष्ठ पत्रकार अनंत विजय की किताब अमेठी संग्राम: ऐतिहासिक जीत अनकही दास्तान में कहा गया है कि अगर स्मृति ईरानी के साथ ऐसा कुछ होता है तो उनके पति ज़ुबिन ईरानी ने उन्हें तुरंत वहां से निकालने की योजना बनाई थी। इसके अलावा उन्होने उन्हें जल्द से जल्द अच्छे अस्पताल में पहुंचाने का प्लान भी बनाया था। ऐसी परिस्थिति में ज़ुबिन ने अपनी पत्नी को अमेठी से लखनऊ और फिर वहां से चिकित्सा के लिए 700 किलोमीटर की दूर गुरुग्राम तेजी से पहुंचने का पूरा प्लान बनाया था।

किताब में कहा गया है कि चुनाव अभियान के दौरान जब उनकी कार एक ऐसी जगह पर रुकी, जहां उन्हें एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करना था। तभी भीड़ में से एक आदमी अचानक उनके पास आया और बोला ” तुम अमेठी से चुनाव लड़ने तो आ गयी हो, पर तुमको पता भी नहीं की तुम्हारे साथ क्या हो जाएगा। कभी भी किसी भी ओर से गोली आएगी और सिर के आर-पार हो जाएगी।”

इतना बोलने के बाद वह आदमी वापस भीड़ में भाग गया। स्मृति ईरानी कहती हैं कि बीजेपी में किसी को भी इस धमकी के बारे में नहीं बताया। उन्होने कहा कि अगर यह बात सामने आ जाती तो मीडिया इसे चुनावी रणनीति बताता। जैसे ही इसके बारे में ज़ुबिन को पता चला उन्होने मुंबई के एक डॉक्टर से बात की।

किताब में कहा गया है कि बिना समय बर्बाद करते हुए ज़ुबिन ने मुंबई में डॉक्टरों से संपर्क किया और आपातकाल की स्थिति में क्या किया जा सकता है इसपर चर्चा की। जिसके बाद डॉक्टरों ने ऐसी किसी भी घटना के घटने पर इलाज के लिए गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में सारी व्यवस्था की। ज़ुबिन ने अमेठी से गुरुग्राम तक पहुंचने का सबसे तेज और रास्ता भी प्लान किया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दौड़ गई देश की पहली Driverless Metro, ‘नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड’ की भी PM ने की शुरुआत; जानें फायदे और फीचर्स
2 धीरूभाई अंबानी: छोटी सी रकम और बड़े सपने लेकर विदेश से लौटे थे RIL संस्थापक, पत्नी को था कारों का शौक
3 ऐसी हैं धीरूभाई की धर्मपत्नीः 100% शाकाहारी कोकिलाबेन को था कारों का शौक, हमेशा रहती थीं गुलाबी लिबास में, जानिए उनसे जुड़ी खास बातें
ये पढ़ा क्या?
X