ताज़ा खबर
 

ऑक्सीजन सप्लाई पर पीएम ने की अहम बैठक, ट्वीट कर कहा- कल फिर से हाईलेवल मीटिंग, नहीं जा सकेंगे बंगाल

पीएम ने कहा कि सभी राज्यों को बिना रुकावट ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित की जाए। गैस की जमाखोरी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो। उनका कहना था ऑक्सीजन की सप्लाई के काम में तेजी लानी होगी। इसके लिए सार्थक प्रयास किए जाए।

PM MODI, CORONA, COVID-19, OXYGEON, BENGAL ELECTION, PM POSTPHONED TOURऑक्सीजन सप्लाई पर पीएम ने आज की हाईलेवल मीटिंग (Indian Express)।

कोरोना बेकाबू हुआ तो पीएम मोदी खुद मैदान में उतर आए। आज उन्होंने हाईलेवल मीटिंग करके निर्देश दिया कि ऑक्सीजन की सप्लाई हर हाल में दुरुस्त की जाए। उधर, देर शाम पीएम ने एक ट्वीट करके बताया कि शुक्रवार को फिर से कई अहम बैठक करेंगे। बकौल पीएम, अब वो बंगाल में रैलियां करने नहीं जा सकेंगे। कल शाम को वह वर्चुअल रैली करेंगे।

पीएम ने कहा कि सभी राज्यों को बिना रुकावट ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित की जाए। गैस की जमाखोरी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो। उनका कहना था ऑक्सीजन की सप्लाई के काम में तेजी लानी होगी। इसके लिए सार्थक प्रयास किए जाए। उन्होंने कहा कि हो सके तो गैस की सप्लाई के नए नए तरीके निकालें। पीएम ने रेल मार्ग के जरिए गैस सप्लाई की योजना पर भी बात की।

कोरोना वायरस संक्रमण की मार अब चुनावों पर भी पड़ने लगी है। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों पर भी इसका असर अब साफ दिखने लगा है। इसी क्रम में पीएम मोदी की कल शुक्रवार यानी 23 अप्रैल को होने वाली 4 चुनावी रैलियां कैंसिल कर दी गई हैं। बताया जा रहा है कि कोरोना पर हाईलेवल मीटिंग के चलते ऐसा कदम उठाया गया है। टीवी रिपोर्ट के मुताबिक, पीएम वर्चुअल रैली करेंगे।

इससे पहले 22 अप्रैल को प्रधानमंत्री की कई रैलियां होनी थीं पर उन्‍हें भी रद्द कर दिया गया था। वहीं कोरोना संकट को देखते हुए पीएम मोदी ने अपनी बंगाल रैलियों में कटौती कर दी थी। 23 अप्रैल को उनकी मालदा, मुर्शिदाबाद, सिवली और कोलकाता में चार रैलियां होनी थीं। बीजेपी ने पहले ही तय कर दिया है कि बंगाल में होने वाली रैलियों में अब 500 से ज्‍यादा लोग नहीं आएंगे।

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी पहले ही अपने चुनाव प्रचार में कटौती कर चुकी हैं। उन्‍होंने बड़ी रैलियां न करने का ऐलान किया है। इसी तरह, कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने अपनी बंगाल रैलियां कैंसल कर दी थी। चार चरणों में राहुल गांधी की एक भी रैली नहीं हुई थी। देश में कोरोना संक्रमण के मामले बेहद तूफानी गति से सामने आ रहे हैं साथ ही मरने वालों की भी तादाद बढ़ती ही जा रही है जिसके चलते तमाम गतिविधियों पर भी इसका असर पड़ रहा है।

गौरतलब है कि ऑक्सीजन की सप्लाई न होने को लेकर देश में इस समय हाहाकार मचा हुआ है। दिल्ली समेत एनसीआर के तमाम अस्पतालों में जीवनदायी गैस का कोटा चंद घंटों का बचा है। मैक्स अस्पताल ने कल दिल्ली हाईकोर्ट में गुहार लगाई थी। जिसके बाद कोर्ट ने केंद्र को कड़ी फटकार लगाई। सुप्रीम कोर्ट ने भी आज सरकार को तीखे तेवर दिखाते हुए नेशनल प्लान बनाने को कहा। पीएम मोदी की इस बात को लेकर भी आलोचना हो रही थी कि इतने गंभीर संकट में वो चुनावी रैलियों में जुटे हैं।

Next Stories
1 ब‍िना मास्‍क के कि‍सानों को संब‍ित पात्रा ने बताया गैरज‍िम्‍मेदार, लोग याद द‍िलाने लगे मोदी-शाह की रैल‍ियां
2 वीड‍ियो: डॉक्‍टरों का काम जिंदगी देना है और हम ऑक्‍सीजन नहीं दे पा रहे- दर्द बयां करते रो पड़े डॉक्‍टर
3 लखनऊ के कब्रिस्तान के हाफ़िज़ बोले, 39 ,साल में पहली बार, महीनेभर में 400 से ज्यादा आए शव, हार्ट अटैक से ज्यादा मौतें
ये पढ़ा क्या?
X