ताज़ा खबर
 

IIT Kharagpur ने फिर दोहराया राग- केंद्र, राज्य सरकारों के खिलाफ न लिखें-बोलें कोई भी बात; एक माह के भीतर दूसरी बार फैक्लटी के लिए फरमान

रजिस्ट्रार बीएन सिंह ने रविवार को कहा कि यह कोई नया नोटिस नहीं है और अधिकारी केंद्र सरकार के एक पुराने परिपत्र के अंशों का हवाला देते रहते हैं जोकि नए भर्ती लोगों के लिए समय-समय पर जारी किया जाता है

Author नई दिल्ली | June 14, 2020 9:58 PM
IIT Kharagpur, IIT, IIT Order, Faculty, Central Government, NDA, BJP, State Government, TMC, State News, National News, Hindi Newsपश्चिम बंगाल में आईआईटी खड़गपुर का कैंपस। (फाइल फोटोः iitkgp.ac.in)

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) खड़गपुर ने अपने संकाय सदस्यों से कहा है कि वे राज्य और केंद्र सरकार से संबंधित आलोचनात्मक विषयों पर न ही कुछ लिखें और न ही रेडियो प्रसारण आदि में हिस्सा लें। हालांकि, संस्थान ने अपने हालिया परिपत्र में कहा कि वे साहित्य अथवा वैज्ञानिक विषयों पर लिख सकते हैं।

रजिस्ट्रार बीएन सिंह ने रविवार को कहा कि यह कोई नया नोटिस नहीं है और अधिकारी केंद्र सरकार के एक पुराने परिपत्र के अंशों का हवाला देते रहते हैं जोकि नए भर्ती लोगों के लिए समय-समय पर जारी किया जाता है क्योंकि हो सकता है कि उन्हें ‘‘केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए तय निश्चित सेवा आचार नियमों की जानकारी न हो।” उन्होंने कहा, ”यह कोई प्रतिबंध लगाने जैसा आदेश नहीं है।”

आईआईटी खड़गपुर की ओर से पांच जून को जारी अधिसूचना में कहा गया था, ”कई बार ऐसा देखा गया है कि संस्थान के कर्मचारी अपने विचार/ प्रकाशन सूचना आदि सोशल मीडिया पर अथवा प्रकाशन के लिए पेश करते हैं। यह सच है कि मीडिया हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा है।

हालांकि, कुछ ऐसे मामले मीडिया में सामने आते हैं, जिनका संस्थान और केंद्र/किसी राज्य की सरकार अथवा जनता के सदस्यों की कार्रवाई अथवा नीतियों पर की गई प्रतिकूल आलोचना का प्रभाव पड़ता है।”

अधिसूचना के मुताबिक, सक्षम प्राधिकारी की पूर्व मंजूरी के बिना कोई भी कर्मचारी किसी रेडियो प्रसारण में हिस्सा नहीं लेगा और न ही किसी अखबार अथवा पत्रिका में कोई लेख या पत्र लिखेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गुजरात में 5.5 तीव्रता का भूकंप, झटकों के दौरान हिलीं गाड़ियां, मकानों में दरारें, घरों से भागे लोग; कच्छ में था केंद्र
2 छत्तीसगढ़ः माओवादियों की मदद करता था BJP नेता, पहुंचाता था ट्रक और अन्य सामान, सहयोगी संग गिरफ्तार
3 J&K, LAC पर पाकिस्तान और चीन कर रहे ‘आघात’, मोदी के मंत्री ने अलापा शांति राग, कहा- विदेशी जमीन में नहीं है दिलचस्पी
राशिफल
X