ताज़ा खबर
 

तीन लाख रुपये सालाना हो सकती है IIT की फीस, एंट्रेंस एग्‍जाम में एप्‍टीट्यूड टेस्‍ट लाने की सिफारिश

कमिटी का यह भी कहना है कि बिना गारंटी हर स्टू़डेंट को बिना ब्याज का लोन मुहैया कराया जाए।

आईआईटी की फीस में तीन गुना की बढ़ोत्‍तरी हो सकती है।

आईआईटी की फीस में तीन गुना की बढ़ोत्‍तरी हो सकती है। आईआईटी काउंसिल की स्टैंडिंग कमिटी ने फीस बढ़ाने की सिफ‍ारिशी रिपोर्ट दी है। अगर यह सिफारिश मान ली जाती है तो फीस 90 हजार रुपए से बढ़कर तीन लाख रुपए सालाना हो जाएगी। हालांकि इस पर फैसला मानव संसाधन मंत्रालय को करना है।

एक और अहम सिफारिश एन्ट्रेन्स एग्जाम को लेकर की गई है। इसमें नेशनल अथॉरिटी ऑफ टेस्ट की ओर से 2017 के बाद एप्टीट्यूड टेस्ट वाला एन्ट्रेन्स एग्जाम कराने का सुझाव दिया है। इस पर भी आखिरी फैसला ईरानी को लेना है। वहीं आईआईटी बॉम्बे के डायरेक्टर देवांग खाखड़ की अगुआई में बनी सब-कमेटी की रिपोर्ट को एससीआईसी ने स्वीकार कर लिया है। खाखड़ कमेटी ने ही फीस बढ़ाने की सिफारिश की है।

कमिटी का यह भी कहना है कि बिना गारंटी हर स्टू़डेंट को बिना ब्याज का लोन मुहैया कराया जाए। साथ ही सब कमिटी से पूछा गया है कि क्‍या फीस वृद्धि पोस्‍ट ग्रेजुएट लेवल पर भी लागू होगी। क्‍योंकि पोस्‍ट ग्रेजुएट करने वाले छात्र फैलोशिप के जरिए पढ़ाई करते हैं। फीस वृद्धि विदेशी छात्रों पर भी लागू होगी। इसके तहत उनकी फीस सालाना 4000 अमेरिकी डॉलर से बढ़कर 10 हजार अमेरिकी डॉलर हो जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App