ताज़ा खबर
 

IIT Delhi के शोधकर्ताओं ने तैयार किया वेब पोर्टल ‘PRACRITI’, कोरोना संक्रमण की रोकथाम में मिलेगी मदद

Corona VIirus in India: शोधकर्ताओं का मानना है कि इससे स्वास्थ प्राधिकरण, केंद्रीय और स्थानीय प्रधिकरणों को कोरोना से जंग लड़ने में मदद मिलेगी। इस पोर्टल के मदद से प्रशासन को आने वाली स्थिति के बारे में जानकारी मिलेगी साथ ही उसके अनुरूप रणनीति बनाने में भी मदद मिलेगी।

IIT, IIT Delhi , News in Hindiशोधकर्ताओं का कहना है कि कोरोना से लड़ने के लिए यह जानना बेहद जरूरी है कि एक संक्रमित कितने असंक्रमित लोगों को संक्रमित कर रहा है। (फोटो-सोशल मीडिया)

IIT Delhi के शोधकर्ताओं ने वेब बेस्ड डैसबोर्ड (पोर्टल) तैयार किया है जिससे भारत में कोरोना संक्रमण के बारे में जानकारी हासिल करने में मदद मिलेगी। मोबाइल फ्रैंडली इस डैशबोर्ड का नाम PRACRITI (PRediction and Assessment of CoRona Infections and Transmission in India)है। इस बेव पोर्टल पर राज्यवार और जिलेवार कोरोना संक्रमण के बारे में जानकारी साझा की जाएगी। इस पोर्टल पर साप्ताहिक अपडेट्स होंगे।

शोधकर्ताओं का मानना है कि इससे स्वास्थ प्राधिकरण, केंद्रीय और स्थानीय प्रधिकरणों को कोरोना से जंग लड़ने में मदद मिलेगी। इस पोर्टल के मदद से प्रशासन को आने वाली स्थिति के बारे में जानकारी मिलेगी साथ ही उसके अनुरूप रणनीति बनाने में भी मदद मिलेगी।

शोधकर्ताओं का कहना है कि कोरोना से लड़ने के लिए यह जानना बेहद जरूरी है कि एक संक्रमित कितने असंक्रमित लोगों को संक्रमित कर रहा है। संक्रमण दर को R0 कहा जाता है। मसलन , अगर एक संक्रमित शख्स दो असंक्रमित शख्स को कोरोना वायरस से संक्रमित करता है तो R0 दर 2 होगी।

Corona Virus in India Live Updates

PRACRITI पोर्टल स्वास्थ्य मंत्रालय, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण और विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकड़ों के आधार पर देश के हर राज्य और जिले का R0 जारी करेगा। प्रोफेसर एन एम अनूप कृष्णन के नेतृत्व में तैयार किए गए इस पोर्टल को तैयार किया गया है। उनका कहना है कि R0 वैल्यू का पता लगाना कोरोना वायरस से जंग लड़ने में अहम भूमिका निभाएगा। इससे स्थानीय और राज्य प्रशासन को पता चलेगा कि उनके यहां कोरोना संक्रमण की दर क्या है।

प्रो. कृष्णन का कहना है कि इससे जिले की सीमाओं को बंद करने का प्रभाव, और जिले के भीतर लॉकडाउन के विभिन्न स्तरों को लागू करना और COVID-19 के प्रसार को नियंत्रित करने में आसानी होगी और डेटा के आधार पर रणनीति बनाने में मदद मिलेगी।

बता दें कि आईआईटी दिल्ली के  प्रो.एन.एम. अनूप कृष्णन  प्रो.हरिप्रसाद कोडमना, हरगुन सिंह, रविन्दर, देवांश अग्रवाल, डॉ.अमरीन जान, सुरेश, सौरभ सिंह ने मिलकर यह डैशबोर्ड तैयार किया है।

Uttar Pradesh Coronavirus LIVE Updates

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: कोरोना वायरस से बचना है तो इन 5 फूड्स से तुरंत कर लें तौबा | जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Next Stories
1 Bajaj Platina 110 H Gear बीएस6 अवतार में लॉन्च, कीमत में हुआ करीब 3500 रुपये का इजाफा! देखें क्या मिले बदलाव
2 ‘न राशन बचा, न पैसा’, मुंबई से साइकिल पर 1700 किलोमीटर दूर सफर पर निकल पड़े 20 प्रवासी मजदूर
3 ‘LG साहब का ऑर्डर है, मस्जिद में अजान नहीं होगी, बैन लगा है’, पुलिस वाले का वीडियो हो रहा वायरल, अब मनीष सिसोदिया ने दी सफाई
ये पढ़ा क्या?
X