ताज़ा खबर
 

IGNCA चीफ राम बहादुर राय बोले, नेहरू की मर्जी चलती तो अंबेडकर को संविधान सभा से कर देते बेदखल

राम बहादुर राय ने कहा, 'अंबेडकर को भारत का वित्त मंत्री बनाना चाहिए था। अगर नेहरू के हाथ में होता तो वे अंबेडकर को संविधान सभा से बेदखल कर देते। केवल महात्मा गांधी की दखल की वजह से अंबेडकर संविधान सभा में थे।'

इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स के प्रमुख राम बहादुर राय

आईजीएनसीए प्रमुख राम बहादुर राय ने कहा कि अगर जवाहर लाल नेहरू की चलती तो वे संविधान सभा से बीआर अंबेडकर को बेदखल कर देते। शनिवार को अंबेडकर के बारे में मीडिया से बात करते हुए राय ने कहा, ‘अंबेडकर को भारत का वित्त मंत्री बनाना चाहिए था। अगर नेहरू के हाथ में होता तो वे अंबेडकर को संविधान सभा से बेदखल कर देते। केवल महात्मा गांधी की दखल की वजह से अंबेडकर संविधान सभा में थे।’

Read Also: जवाहरलाल नेहरू की तारीफ करने वाले IAS अधिकारी का हुआ ट्रांसफर

राय ने यह बात हालही में बनाई गई इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स की एग्जीक्यूटिव कमेटी की पहली बैठक के एक दिन बाद कही। बैठक में संस्थान के विजन के बारे में चर्चा की गई थी। राय ने बताया कि आईजीएनसीए विरासत, पुरातत्व और सांस्कृतिक प्रबंधन पर अगले साल से कोर्स शुरू करने जा रहा है। इसका उद्देश्य ‘स्किल्ड कल्चरल मैनपावर’ बनाना है। कल्चर को सब्जेक्ट के तौर पर पढ़ाने के लिए सीबीएसई से भी संपर्क किया गया है।

Read Also: भाजपा विधायक ने कहा- देश में रेप की घटनाओं के लिए नेहरू-गांधी परिवार जिम्मेदार

संस्थान के सदस्य और सचिव सच्चिदानंद जोशी ने कहा कि अगले शैक्षणिक साल से डिप्लोमा कोर्स शुरु किया जाएगा। साथ ही कहा कि कंद्र संस्कृति संवाद श्रंखला की शुरुआत 28 जुलाई से करने जा रही है। इसमें कला, संस्कृति, दर्शन और लाइफस्टाइल के बारे में बताया जाएगा। यह प्रोग्राम हिंदी के लेखक नामवर सिंह के 90वें जन्मदिन पर 28 जुलाई से शुरू किया जाएगा। नामवर सिंह ने पिछले साल ‘अवार्ड वापसी’ का विरोध किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories