ताज़ा खबर
 

जनसत्ता के पूर्व पत्रकार राम बहादुर राय बने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के अध्यक्ष

केंद्र सरकार ने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र (आइजीएनसीए) के प्रबंधन का पुनर्गठन कर पूर्व राजनयिक चिन्मय गरेखान के स्थान पर वरिष्ठ पत्रकार राम बहादुर राय को इसकी कमान सौंपी है।

Author नई दिल्ली | Updated: April 15, 2016 4:10 AM
ignca, ram bahadur rai, chinmaya gharekhan, ignca ram bahadur rai वरिष्ठ पत्रकार राम बहादुर राय

केंद्र सरकार ने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र (आइजीएनसीए) के प्रबंधन का पुनर्गठन कर पूर्व राजनयिक चिन्मय गरेखान के स्थान पर वरिष्ठ पत्रकार राम बहादुर राय को इसकी कमान सौंपी है। संस्कृति मंत्रालय की ओर से हिंदी दैनिक जनसत्ता में समाचार सेवा के संपादक रहे राय को आइजीएनसीए के 20 सदस्यीय न्यासी बोर्ड का अध्यक्ष नियुक्त किए जाने की घोषणा की गई है।

राम बहादुर राय ने पत्रकारिता की शुरुआत हिंदुस्तान समाचार से की। वे जनसत्ता में मुख्य संवाददाता और ब्यूरो प्रमुख और नवभारत टाइम्स में विशेष संवाददाता के पद पर भी रहे। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र की स्थापना शोध, अकादमिक अध्ययन और कला क्षेत्र के विस्तार के लिए 1987 में उस समय की गई थी, जब राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे। गरेखान को यूपीए-एक के शासनकाल में नियुक्त किया गया था।

राय के अलावा न्यास में 19 अन्य सदस्य हैं जिनमें शास्त्रीय नृत्यांगना सोनल मानसिंह, गीतकार प्रसून जोशी और कलाकार वासुदेव कामथ शामिल हैं। बोर्ड के अन्य सदस्यों में चंद्रप्रकाश द्विवेदी, नितिन देसाई, के अरविंद राव, भारत गुप्ता, खादी ग्रामोद्योग आयोग के पूर्व अध्यक्ष महेश चंद्र शर्मा, एम सेशन, रति विनय झा, निर्मला शर्मा, हर्ष नियोतिया, सरयू दोशी, डीपी सिन्हा और विराज यागनिक हैं।

बोर्ड में संस्कृति सचिव, अतिरिक्त सचिव, वित्त सलाहकार और सदस्य सचिव भी आइजीएनसीए के न्यासियों में शामिल हैं। पद्मा सुब्रमण्यम पुराने बोर्ड की एकमात्र ऐसी हस्ती हैं जिन्हें नए बोर्ड में भी रखा गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्‍ली में अब 30 अप्रैल तक ODD-EVEN 2, केजरीवाल ने की योजना सफल बनाने की अपील
2 कश्मीर में जारी हिंसा के चलते तीसरे दिन भी कर्फ्यू, Internet सेवाएं बंद
3 नागपुर में कन्हैया कुमार की कार पर पहले पत्थरों से हमला फिर रैली में फेंका गया जूता
ये पढ़ा क्या?
X