ताज़ा खबर
 

आईएएस रवि की मौत की जांच CBI से कराने की मांग

कर्नाटक के आईएएस अधिकारी डी के रवि की मौत की सीबीआई से जांच कराने की मांग संसद के दोनों सदनों में उठने पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राज्य सरकार की ओर से ऐसा कहे जाने पर केन्द्र तुरंत इसका आदेश देगा। लोकसभा में शून्यकाल के दौरान भाजपा के प्रहलाद जोशी द्वारा यह […]
Author March 19, 2015 17:46 pm
IAS खुदकुशी की CBI जांच के लिए तैयार सरकार!

कर्नाटक के आईएएस अधिकारी डी के रवि की मौत की सीबीआई से जांच कराने की मांग संसद के दोनों सदनों में उठने पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राज्य सरकार की ओर से ऐसा कहे जाने पर केन्द्र तुरंत इसका आदेश देगा।

लोकसभा में शून्यकाल के दौरान भाजपा के प्रहलाद जोशी द्वारा यह मामला उठाए जाने पर सिंह ने कहा कि इस बारे में सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल उनसे मिला है और उसने सीबीआई जांच की मांग की थी। उन्होंने बताया कि उन्होंने इस मांग के बारे में राज्य के मुख्यमंत्री से बात की और उन्होंने कहा कि वह इस मामले में जानकारी ले रहे हैं और दो दिन बाद उन्हें सारी स्थिति से अवगत कराएंगे।

सिंह ने कहा, ‘अगर राज्य सरकार ने सीबीआई जांच के लिए कहा तो केन्द्र तुरंत इस दिशा में कदम उठाएगा। जोशी ने इस मामले को उठाते हुए आरोप लगाया कि यह संदिग्ध परिस्थितियों में हत्या का मामला लगता है, इसलिए सचाई सामने लाने के लिए सीआईडी की बजाय सीबीआई से जांच कराई जानी चाहिए।

इस मुद्दे पर कर्नाटक से भाजपा सांसदों ने सदन के बाहर संसद भवन परिसर में भी विरोध जताया और सीबीआई जांच नहीं कराने के लिए राज्य की कांग्रेस सरकार की आलोचना की।

यह भी पढ़ें: मां का रो-रोकर बुरा हाल: नहीं रहा ईमानदार आइएएस बेटा रवि

राज्यसभा में शून्यकाल शुरू होते ही भाजपा के बसवा राज पाटिल ने यह मुद्दा उठाते हुए रवि की मौत से जुड़े मामले की पूरी जांच कराये जाने की मांग की। उन्होंने कहा कि मृत आईएएस अधिकारी के माता-पिता भी सीबीआई जांच की मांग को लेकर धरने पर बैठे हुए हैं ताकि इस पूरे मामले का सच सामने आ सके। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में पूरा विपक्ष इस मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहा है।

गौरतलब है कि 36 वर्षीय आईएएस अधिकारी रवि का शव गत सोमवार को उनके बेंगलूर स्थित फ्लैट में पंखे से लटकता हुआ मिला था। पुलिस ने इसे प्रथम दृष्टया आत्महत्या का मामला बताया। कर्नाटक की कांग्रेस सरकार ने इस मामले की सीबीआई जांच से इंकार करते हुए कहा कि मामले में सीआईडी की केन्द्रीय जांच विभाग की जांच पर्याप्त होगी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.