ताज़ा खबर
 

जब अभिनंदन कर रहे थे F-16 का शिकार, ‘मोर्चे’ पर डटी थी यह महिला एयरफोर्स कर्मी भी, मिल सकता है सम्मान

इस महिला अधिकारी की सतर्कता और सूझ-बूझ से ही भारतीय लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को खदेड़ने में सफलता हासिल की।

महिला अधिकारी को विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया जा सकता है। (file pic)

बीती फरवरी में भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों और पाकिस्तानी वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच सीमा पर हुई डॉग फाइट में विंग कमांडर अभिनंदन की बहादुरी की चर्चा खूब हुई। लेकिन इस चर्चा में भारतीय वायुसेना की एक महिला अधिकारी की बहादुरी और सूझ-बूझ के बारे में लोगों को पता नहीं चल सका। इस महिला अधिकारी की सतर्कता और सूझ-बूझ से ही भारतीय लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को खदेड़ने में सफलता हासिल की। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के अनुसार, इस महिला अधिकारी को भारतीय वायुसेना के ‘विशिष्ट सेवा पदक’ से सम्मानित किया जा सकता है।

सूत्रों के अनुसार, उक्त महिला अधिकारी भारतीय वायुसेना में स्क्वाड्रन लीडर के पद पर पंजाब के किसी रडार कंट्रोल स्टेशन पर तैनात हैं। अभी तक महिला अधिकारी की पहचान उजागर नहीं हुई है। सूत्रों के अनुसार, उक्त महिला अधिकारी ने बेहद तनाव और दबाव के क्षणों में भी धर्य रखा और बीती 27 फरवरी को भारतीय सीमा में प्रवेश करने वाले 24 पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के, जिनमें एफ-16, जेएफ-17 और मिराज-5 जैसे लड़ाकू विमाने थे, के बारे में भारतीय फाइटर पायलट्स को जानकारी देती रहीं। इस जानकारी की मदद से ही भारतीय पायलट्स ने पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को खदेड़ दिया। उल्लेखनीय है कि बालाकोट में एअर स्ट्राइक करने के बाद भारतीय वायुसेना को आशंका थी कि पाकिस्तान भी जवाबी कार्रवाई कर सकता है। लेकिन यह कार्रवाई अगले दिन ही होगी, इसकी शायद उम्मीद नहीं थी।

हालांकि बालाकोट एअर स्ट्राइक के बाद अगले दिन वायुसेना को संकेत मिल गए थे कि पाकिस्तानी वायुसेना एअर स्ट्राइक कर सकती है। जिसके चलते रडार स्टेशन पर काफी सतर्कता बरती जा रही थी। इसी बीच 3 से 4 पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने एलओसी पर राजौरी जिले के कलाल इलाके से भारतीय सीमा में घुसपैठ की। जिस पर रडार स्टेशन पर तैनात उक्त महिला अधिकारी ने तुरंत ही 2 सुखोई-30MKI और 2 मिराज-2000 विमानों को एअर कॉम्बैट के लिए अलर्ट किया। जब बड़ी संख्या में पाकिस्तानी लड़ाकू विमान दिखाई दिए तो महिला स्कवाड्रन लीडर ने तुरंत ही श्रीनगर एअरबेस से 6 मिग-21 को अलर्ट किया। इस तरह इस पूरे मामले में महिला अधिकारी ने काफी अहम और केन्द्रीय भूमिका निभायी। खबर के अनुसार, महिला वायुसेना अधिकारी ने भारतीय पायलट्स को यह भी जानकारी दी थी कि पाकिस्तान की तरफ से एफ-16 विमानों ने भारतीय सीमा पार की है और वह आर-73 मिसाइल से लैस हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App