ताज़ा खबर
 

सुबह-सुबह राहुल गांधी का मैसेज- किसी के आगे नहीं झुकूंगा; मंत्री का ऐलान- हरियाणा में घुसने नहीं दूंगा

पूर्व कांग्रेस चीफ ने शुक्रवार (2 अक्टूबर) को महात्मा गांधी की जयंती पर सुबह-सुबह यह बात ट्वीट के जरिए कही।

Hathras, Rahul Gandhi, UPहाथरस जाने के लिए गुरुवार को ग्रेटर नोएडा के यमुना एक्सप्रेस-वे पर पूर्व Congress चीफ राहुल गांधी और उनकी बहन व AICC महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा। (फोटोः पीटीआई)

Congress के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि वह किसी के आगे नहीं झुकने वाले हैं। शुक्रवार (2 अक्टूबर) को महात्मा गांधी की जयंती पर सुबह-सुबह यह बात ट्वीट के जरिए कही। उन्होंने लिखा, “‘मैं दुनिया में किसी से नहीं डरूंगा…मैं किसी के अन्याय के समक्ष झुकूं नहीं। मैं असत्य को सत्य से जीतूं और असत्य का विरोध करते हुए मैं सभी कष्टों को सह सकूं। गांधी जयंती की शुभकामनाएं।”

राहुल का यह मैसेज तब आया है, जब शनिवार से Agriculture Bills को लेकर शनिवार (तीन अक्टूबर, 2020) से उनकी किसान यात्रा होनी है। पंजाब में उनके नेतृत्व में किसान आंदोलन के तहत कांग्रेस पार्टी ट्रैक्टर मार्च निकालेगी। यह मार्च पंजाब के विभिन्न जिलों से होते हुए पांच अक्टूबर को हरियाणा में दाखिल होगा।

समाचार एजेंसी ‘पीटीआई-भाषा’ की रिपोर्ट के मुताबिक, पंजाब कांग्रेस प्रवक्ता ने बताया कि ट्रैक्टर रैलियों को किसान संगठनों का समर्थन मिलने की उम्मीद है। रैलियों में तीन दिन में 50 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय की जाएगी। रैलियां तीनों दिन हर रोज पूर्वाह्न लगभग 11 बजे शुरू होंगी। इनका आयोजन कोविड-19 संबंधी प्रोटोकॉल का पालन करते हुए किया जाएगा।

तीन अक्टूबर को रैली बढ़नी कलां (निहाल सिंह वाला, मोगा) में एक जनसभा के साथ शुरू होगी और 22 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। चार अक्टूबर को राहुल गांधी एक जनसभा के लिए कार से भवानीगढ़ पहुंचेंगे। इसके बाद वह समाना, पटियाला के लिए ट्रैक्टर पर सवार होंगे।

प्रवक्ता ने बताया कि पांच अक्टूबर को धुदन साधन (पटियाला) से रैली एक जनसभा के साथ शुरू होगी और पिहोवा बॉर्डर तक ट्रैक्टर से 10 किलोमीटर की दूरी तय करेंगे, जहां से राहुल गांधी हरियाणा में प्रवेश करेंगे।

हरियाणा कांग्रेस के सूत्रों के अनुसार राहुल गांधी पांच अक्टूबर को कैथल और कुरुक्षेत्र जिले के पीपली में रैलियों को संबोधित कर सकते हैं। इसके बाद वह दिल्ली लौट जाएंगे।

कांग्रेस सूत्रों के हवाले से एजेंसी ने बताया कि कहा कि किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ आवाज उठाने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, कांग्रेस महासचिव एवं पार्टी के पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़, राज्य के सभी मंत्री एवं कांग्रेस विधायक प्रदर्शनों में शामिल होंगे।

हालांकि, हरियाणा के गृह विभाग के मंत्री अनिल विज के बयान में कहा गया, “राहुल पंजाब में जो करें, हमें उससे लेना-देना नहीं है, पर हम उन्हें हरियामा में घुसने नहीं देंगे। इससे पहले भी पंजाब सरकार ने दो बार भीड़ जुटवा कर हरियाणा में शांति भंग करने की कोशिश की थी, पर हमने उन्हें ऐसा करने नहीं दिया।”

हाथरस कांड में कोर्ट से टॉप अफसर तलब, राहुल-प्रियंका हिरासत मेंः इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी के हाथरस जिले में 19 साल की दलित युवती के साथ कथित गैंगरेप और मौत के केस में गुरुवार को राज्य सरकार के शीर्ष अधिकारियों को समन भेजा। वहीं, कांग्रेस ने जबर्दस्त प्रदर्शन किया और उसके वरिष्ठ नेता राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी वाद्रा को उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इन्हें तब हिरासत में ले लिया गया, जब दोनों दलित बालिका के परिवार से मुलाकात के लिए हाथरस जाने पर अड़े हुए थे। यूपी पुलिस ने कहा कि राहुल, प्रियंका और अन्य 150 नेताओं को निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने पर हिरासत में लिया गया लेकिन निजी मुचलका जमा करने पर उन्हें छोड़ दिया गया। (पीटीआई-भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 PM Economic Council से लेकर Niti Aayog तक एक्सपर्ट्स में बढ़ी बेचैनी! ये है वजह
2 हाथरस रेप मामला: विरोध प्रदर्शन के दौरान धक्कामुक्की, जमीन पर गिरे राहुल गांधी, वायरल हो रहा वीडियो
3 कोरोना: 70 फीसदी मरीजों सेे दूसरे तक नहीं पहुंचा वायरस, बच्‍‍‍‍‍‍चों से फैलता है संक्रमण- रिपोर्ट में दावा
ये पढ़ा क्या?
X