PM नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को चेताया- हमारे पास UPA का भी NPR रिकॉर्ड, क्यों फैला रहे हैं झूठ?

पीएम मोदी ने कांग्रेस को चेताते हुए कहा यूपीए के एनपीआर का आंकड़ा भी हमारा पास है। यूपीए के एनपीआर के डाटा का इस्तेमाल कर हमने गरीबों को फायदा पहुंचाया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (6 फरवरी) को नेशनल पॉपुलेशन रजिस्ट्रर (एनपीआर) पर कांग्रेस को आड़े हाथों लिया। पीएम ने कहा कि कांग्रेस एनपीआर जैसी सामान्य प्रक्रिया का सियासी फायदे और वोट बैंक की राजनीति के चलते विरोध कर रही है। पीएम ने कहा कि इन वजहों से वह जनता के बीच झूठ फैला रहा है।

उन्होंने कांग्रेस को चेताते हुए कहा ‘यूपीए के एनपीआर का आंकड़ा भी हमारा पास है। यूपीए के एनपीआर के डाटा का इस्तेमाल कर हमने गरीबों को फायदा पहुंचाया है। वोटबैंक की मजबूरी से एनपीआर का विरोध हो रहा है। यूपीए के समय के जैसी सामान्य एनपीआर प्रक्रिया का विरोध किया जा रहा है। विपक्ष सियासी माहौल बनाकर विपक्ष इसका विरोध कर रहा है और जानबूझकर अडंगा, झूठ और भ्रम फैला रहा है।’

मोदी ने कहा ‘जनगणना और एनपीआर सामान्य गतिविधियां है जो देश में पहले भी होती रही हैं। लेकिन जब वोटबैंक राजनीति की मजबूरी हो, तो खुद एनपीआर को 2010 में लाने वाले, आज लोगों में भ्रम फैला रहे हैं।’

प्रधानमंत्री ने कहा ‘जिस काम को आप लाए, आगे बढ़ाया, मीडिया में प्रचार कराया, आज उसे ही अछूत बताकर उसका विरोध कर रहे हैं। इस बात का सबूत है कि आपके नेरेटिव केवल वोटबैंक की राजनीति के हिसाब से तय होते हैं। अगर तुष्टिकरण का सवाल हो तो विकास और विभाजन में से आप डंके की चोट पर विभाजन को चुनते हैं।’

उन्होंने सीएए और एनआरसी पर जारी विरोध प्रदर्शन पर कहा ‘संसद और विधानसभा के निर्णयों का सड़कों पर विरोध, आगजनी और लोगों द्वारा कानूनों को स्वीकार नहीं करने से अराजकता की स्थिति पैदा होगी। विधायिका के फैसलों के खिलाफ सड़कों पर विरोध प्रदर्शनों और आगजनी से ‘अराजकता’ उत्पन्न हो सकती है, सभी को इससे चिंतित होने की जरूरत है।’

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट