ताज़ा खबर
 

हाइप्रोफाइल मीटिंगः नवाब मलिक बोले- पवार-शाह के बीच नहीं हुई कोई मुलाकात, शाह ने कहा था, हर चीज सार्वजनिक नहीं की जा सकती

उन्होंने कहा कि बीजेपी का सोशल मीडिया अफवाह फैला रही है। शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल जयपुर से सीधे मुंबई आए हैं। बकौल, नवाब मलिक पवार तो गुजरात गए ही नहीं तो मीटिंग कैसे और कहां हो गई।

nawab malik, ncp, sharad pawarमहाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक (फोटोः ट्विटर@sirajnoorani)

महाराष्ट्र की राजनीति अजीबोगरीब करवटें ले रही है। एक तरफ सामना के जरिए शिवसेना ने एनसीपी कोटे से मंत्री बने अनिल देशमुख पर निशाना साधा तो दूसरी तरफ गुजरात से खबर आई कि एक बिजनेसमैन के घर गृह मंत्री अमित शाह की एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार और पूर्व केंद्रीय मंत्री से मुलाकात हुई।

इन सबके बीच महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा है कि दो दिनों से इस हाइ प्रोफाइल मीटिंग को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है, लेकिन ऐसी कोई मीटिंग हुई ही नहीं। सोशल मीडिया पर केवल अफवाहों ही फैल रही हैं। ध्यान रहे कि गृह मंत्री अमित शाह ने इस बैठक को लेकर पूछे गए एक सवाल पर कहा था, हर चीज साज्ञर्वजनिक नहीं की जा सकती है।

नवाब मलिक ने गुप्त मुलाकात की कथित खबर पर कहा कि गुजरात के एक अखबार ने खबर छापी है कि पवार और प्रफुल्ल पटेल ने अमित शाह से मुलाकात की। उन्होंने कहा, बीजेपी का सोशल मीडिया अफवाह फैला रही है। शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल जयपुर से सीधे मुंबई आए हैं। बकौल, नवाब मलिक पवार तो गुजरात गए ही नहीं तो मीटिंग कैसे और कहां हो गई।

सूत्रों का कहना है कि शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल शुक्रवार शाम अहमदाबाद पहुंचे थे। इसके बाद दोनों नेता गांधीनगर पहुंचे। इस दौरान वे किस किस से मिले ये अभी तक साफ नहीं हुआ है। लेकिन जब ये जानकरी सामने आई कि इस दौरान गृह मंत्री अमित शाह भी अहमदाबाद में थे तो अफवाहों का बाजार गर्म हो गया।

बताया जाता है कि एनसीपी के दोनों बड़े नेताओं के अहमदाबाद पहुंचने के डेढ़ घंटे बाद गृह मंत्री अमित शाह भी वहां पहुंचे थे। लेकिन ये साफ नहीं हो पाया है कि एनसीपी के इन दोनों नेताओं की मुलाकात किस-किस से हुई। जब ये सवाल गृह मंत्री से पूछ गया तो उन्होंने इन मुलाक़ातों को और हवा दे दी। शाह के यह कहने से कि हर चीज को सार्वजनिक नहीं किया जा सकता, पवार के साथ उनकी मीटिंग को लेकर उड़ रही अफवाहों को पंख लगे।

गौरतलब है कि एंटीलिया केस के बाद से महाराष्ट्र की महाविकास अगाड़ी में सबह कुछ ठीक नहीं चल रहा है। मुंबई के कमिश्नर रहे परमबीर सिंह की चिट्ठी सामने आने के बाद शिवसेना ने सामना के जरिए गृह मंत्री अनिल देशमुख को निशाने पर लिया तो एनसीपी के नेता ठाकरे की टीम को नसीहत देने लग पड़े। डिप्टी सीएम अजीत पवार ने शिवसेना को तीखी बाते बोलीं। देशमुख एनसीपी कोटे से गृह मंत्री बने थे। वह शरद पवार के बेहद नजदीकी माने जाते हैं।

Next Stories
1 महाराष्ट्र में कोरोना बेलगाम, 24 घंटे में 40 हजार से ज्यादा नए केस,108 की गई जान, सीएम बोले- लोग नहीं मानेंगे तो फिर से लग सकता है लॉकडाउन
2 यूपीः मथुरा में आरएसएस जिला प्रचारक के साथ अभद्रता: कोतवाली प्रभारी लाइन हाजिर
3 बंगाल चुनाव से पहले TMC नेता अरेस्ट, NIA ने 2009 हत्या केस में की कार्रवाई
यह पढ़ा क्या?
X