ताज़ा खबर
 

‘अब मेरी बेटी की रूह को मिलेगा सुकून’ हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर में चारों आरोपियों के एनकाउंटर पर बोले डॉक्टर के पिता

हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस में चारों आरोपियों के एनकाउंटर पर पीड़िता डॉक्टर के पिता ने खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि मेरी बेटी की रूह को अब सुकून मिलना चाहिए।

Author हैदराबाद | Updated: December 6, 2019 11:47 AM
घटना के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी। (फोटोःएएनआई)

हैदराबाद में महिला डॉक्टर के गैंगरेप व मर्डर के चारों आरोपी पुलिस एनकाउंटर में ढेर कर दिए गए। पुलिस कमिश्नर ने इसकी पुष्टि की है। वहीं, महिला डॉक्टर के पिता ने भी इस एनकाउंटर पर खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि मैं इस मामले में हैदराबाद पुलिस और सरकार के साथ हूं। उधर, दिल्ली गैंगरेप पीड़िता की मां ने भी इस सजा पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि पुलिस ने काफी अच्छा काम किया। उन्होंने मांग की कि एनकाउंटर करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कोई कार्यवाही न की जाए।

पीड़िता के पिता ने कही यह बात: महिला डॉक्टर के पिता ने न्यूज एजेंसी से कहा, ‘‘10 दिन पहले मेरी बेटी की मौत हुई थी। मैं इसके लिए पुलिस व सरकार के प्रति आभार व्यक्त करता हूं। मेरी बेटी की रूह को अब शांति मिलनी चाहिए।’’ वहीं, दिल्ली गैंगरेप पीड़िता की मां ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा, ‘‘मैं चारों आरोपियों को मिली इस सजा से काफी खुश हूं। पुलिस ने काफी अच्छा काम किया। मेरी मांग है कि पुलिसकर्मियों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया जाना चाहिए। साथ ही, मेरी बेटी के दोषियों को भी मौत की सजा दे देनी चाहिए।’’

Hindi News Today, 06 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

यह है मामला: बता दें कि 27 नवंबर की रात चारों आरोपियों ने पहले महिला डॉक्टर की स्कूटी पंक्चर कर दी थी। इसके बाद उन्होंने डॉक्टर को मदद की पेशकश की और उसकी स्कूटी ले गए थे। आरोप है कि फिर बदमाशों ने डॉक्टर को किडनैप करके गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया और उसकी हत्या कर दी। साथ ही, पेट्रोल डालकर लाश जला दी थी।

अगले दिन मिली थी डेडबॉडी: जानकारी के मुताबिक, वारदात के अगले दिन 28 नवंबर को महिला डॉक्टर की जली हुई लाश एक पुल के पास मिली थी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज आदि की मदद से 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। इनमें एक ट्रक ड्राइवर, एक हेल्पर और 2 अन्य लोग शामिल थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अफसोस है कि बाबरी और संविधान पर हमला करने वालों को सजा के बजाय ऊंचे ओहदे मिले- रिटायर्ड नौकरशाहों का देशवासियों के नाम बयान
2 ‘1984 के सिख दंगों के दौरान दिल्ली के थाने सीधे PMO भेज रहे थे रिपोर्ट, गृहमंत्री नरसिम्हा राव किए गए थे नजरअंदाज’, किताब में दावा
3 Honey Trap Case में खबरें छापने वाले संपादक पर एक्शन, प्रशासन ने ढहा दीं बंगला-होटल समेत 4 बिल्डिंग
ये पढ़ा क्या?
X