ताज़ा खबर
 

हैदराबाद एनकाउंटर पर BJP दो फाड़, संसद से सड़क तक कई नेताओं ने दी पुलिस को शाबाशी, पर तेलंगाना में पार्टी प्रवक्ता बोले- ‘हम बनाना स्टेट नहीं’

Hyderabad Encounter: वरिष्ठ अधिकारियों ने एनकाउंटर की पूरी कहानी बताते हुए कहा कि यह एनकाउंटर 5-10 मिनट तक चला था।

Author Edited By Nishant Nandan Published on: December 6, 2019 4:08 PM
पुलिस ने बताया कि एक आरोपी ने पुलिस वाले से हथियार छीन लिया। फोटो सोर्स – ANI

Hyderabad Encounter: हैदराबाद एनकाउंटर पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) दो भागों में बंटती नजर आ रही है। तेलंगाना भाजपा की तरफ से कहा गया है कि राज्य की एक जिम्मेदार पार्टी होने के नाते उसने सरकार और पुलिस से कहा है कि वो 26 साल की पीड़िता से रेप के आरोपियों के एनकाउंटर के मामले में मीडिया को बताए। तेलंगाना भाजपा के प्रवक्ता के कृष्ण सागर राव ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि ‘गैंगरेप और हत्या एक जघन्य अपराध है और बीजेपी इसकी निंदा करती है…और एक जिम्मेदार पार्टी होने के नाते पार्टी ने राज्य सरकार पर दबाव बनाया है कि वो आरोपियों को न्याय के कटघरे में खड़ा करे। भारत एक बनाना राज्य नहीं है…भारत में संविधान और कानून है। किसी अपराध पर राजनीति सही उदाहरण सेट नहीं करती है। तेलंगाना सरकार और डीजीपी को तुरंत एक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाना चाहिए…एक जिम्मेदार पार्टी होने के नाते भाजपा उस समय अपना रिएक्शन देगी जब पुलिस अधिकारियों का बयान सामने आएगा।’

हालांकि इधर दूसरे अन्य कई भाजपा नेताओं ने ट्वीट कर तेलंगाना पुलिस को बधाई दी है। भारतीय जनता पार्टी के सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने इस मामले पर ट्वीट करते हुए कहा कि ‘मैं हैदराबाद पुलिस और उस नेतृत्व को बधाई देता हूं जिन्होंने पुलिस को यह करने की इजाजत दी। हम सभी जानते हैं कि यह वो देश है जहां बुराई पर हमेशा अच्छाई की जीत होती है।’ भाजपा सांसद लोकेट चटर्जी ने भी इस मुठभेड़ पर बधाई संदेश लिखा है।

इस मुद्दे पर अब तक लोगों की भी अलग-अलग राय भी सामने आई है। कुछ पूर्व अधिकारियों ने कहा है कि पुलिस विभाग ने सहीं काम किया है…हालांकि कुछ अन्य पूर्व पुलिस अधिकारी और वकीलों का ऐसा मानना है कि ऐसे एनकाउंटरों का परिणाम भविष्य में बुरा होता है।

इधर अहले सुबह हुए इस एनकाउंटर पर अब तेलंगाना पुलिस का बयान भी सामने आया है। वरिष्ठ अधिकारियों ने एनकाउंटर की पूरी कहानी बताते हुए कहा कि यह एनकाउंटर 5-10 मिनट तक चला था। पुलिस का कहना है कि क्राइम सीन को रिक्रिएट करने के दौरान एक आरोपी ने पुलिस वाले से बंदूक छीन ली और फायरिंग कर दी।

 

इतना ही नहीं मौके का फायदा उठाकर आरोपियों ने पुलिस वालों पर पत्थर और डंडे से हमला बोल दिया। इस हमले में वेंकटेश्वर और अरविंद गौड़ नाम के 2 पुलिसकर्मी घायल हो गए। जिसके बाद फायरिंग कर भाग रहे अपराधी पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 हनुमानगढ़ी मंदिर के पुजारी बोले- 6 दिसंबर को शौर्य नहीं ‘सौहार्द दिवस’ के रूप में मनाएंगे, विश्व हिन्दू परिषद ने कही यह बात
2 “महिलाएं चप्पल-जूते लेकर CM योगी का करेंगी घेराव”, कांग्रेस नेता ने चेताया, आवास से निकलना भी होगा मुश्किल
3 अपने फैसले का हवाला देकर बोले SC के पूर्व जज- साफ दिख रहा हैदराबाद एनकाउंटर है फर्जी, पुलिसवालों को भी दी जाए फांसी
ये पढ़ा क्‍या!
X