ताज़ा खबर
 

हैदराबाद यूनिवर्सिटी हिंसा में 25 छात्र गिरफ्तार, सरकार पर कैंपस में ‘गंदी राजनीति’ करने का आरोप

छात्रों ने मंगलवार (22 मार्च) को एचसीयू कुलपति अप्पा राव पोडिले के आधिकारिक आवास में तोड़फोड़ की थी।

Author हैदराबाद | March 23, 2016 8:52 PM
Hyderabad Central University, Violence Hyderabad Central University, appa rao podile, Rohith Vemula, appa rao podile BJP, Students Arrest, NSUI, Dirty Politics, Hyderabadरोहित वेमुला के लिए न्याय की मांग करते छात्र हैदराबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए। (पीटीआई फाइल फोटो)

हैदराबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (एचसीयू) के 25 छात्रों और दो संकाय सदस्यों को कुलपति अप्पा राव पोडिले के आवास में तोड़फोड़ करने और पुलिसकर्मियों पर पथराव करने की घटनाओं के सिलसिले में बुधवार (23 मार्च) को गिरफ्तार कर लिया गया। गचीबोअली पुलिस निरीक्षक जे रमेश के मुताबिक सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने, अनाधिकार प्रवेश करने, सरकारी अधिकारियों को अपना कर्तव्य निभाने से रोकने और मंगलवार (22 मार्च) की घटना के सिलसिले में आईपीसी की अन्य संबद्ध धाराओं के तहत अब तक दो मामले दर्ज किए गए हैं।

रमेश ने बताया, ‘‘दोनों घटनाओं के सिलसिले में 27 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें 25 छात्र और दो संकाय सदस्य शामिल हैं।’’ उन्होंने बताया कि सभी आरोपियों को जल्द ही अदालत में पेश किया जाएगा।

गौरतलब है कि छात्रों ने मंगलवार (22 मार्च) को एचसीयू कुलपति अप्पा राव पोडिले के आधिकारिक आवास में तोड़फोड़ की और पुलिस को छात्रों के एक समूह पर उस वक्त लाठीचार्ज करना पड़ा जब वे लोग उनके ढाई महीने के अवकाश के बाद पदभार फिर से संभालने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। रोहित वेमुला के 17 जनवरी को आत्महत्या करने के मद्देनजर पोडिले अवकाश पर चले गए थे।

इस बीच, एनएसयूआई अध्यक्ष रोजी एम जॉन ने एक बयान में आरोप लगाया कि प्रदर्शनकारी छात्रों को पुलिस अज्ञात स्थानों पर ले गई और उनका पता नहीं चल पाया है। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी मांगे पूरी होने तक हमारी लड़ाई नहीं रुकेगी। मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी, मंत्री बंडारू दत्तात्रेय और कुलपति प्रो. अप्पा राव को रोहित की मौत को लेकर सजा मिलनी चाहिए। हम प्रो. अप्पा राव की फौरन गिरफ्तारी की मांग करते हैं जिनके खिलाफ एससी-एसटी अत्याचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज है। रोहित अधिनियम लागू होने तक हम प्रदर्शन जारी रखेंगे।’’

गैर शिक्षण कर्मचारियों की हड़ताल के चलते एचसीयू में भोजन कक्ष के बंद होने के चलते छात्रों को खुले क्षेत्र में खाना पकाना पड़ा। एनएसयूआई नेता ने कहा, ‘‘पेयजल, भोजन से वंचित कर, इंटरनेट कनेक्शन काट कर और मीडिया को बाहर रख कर सरकार कैम्पस में गंदी राजनीति कर रही है। सरकार का यह बर्ताव इसके अमानवीय, हिंसक और फासीवादी चेहरे को दिखा रहा।’’

हैदराबाद पहुंचे कन्हैया कुमार ने कहा- यूनिवर्सिटी जाने की इजाजत नहीं मिली तो कैंपस के बाहर बोलूंगा

कन्हैया का हैदराबाद यूनिवर्सिटी दौरा: कक्षाएं 4 दिन के लिए स्थगित, किसी बाहरी को कैंपस जाने की मनाही

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 फर्ग्युसन कॉलेज विवाद: प्रिंसिपल ‘देश विरोधी नारेबाजी’ पर अपने बयान से पलटे
2 2016 के अंत में हो सकते हैं उप्र विस चुनाव, मुख्य मुकाबला बसपा से: भाजपा
3 India vs Bangladesh, ICC World Twenty20: बंग्लादेश संग रोमांचक रहा मुकाबला, 1 रन से जीता भारत
ये पढ़ा क्या?
X