लाइव डिबेट में आमने-सामने आए ऐंकर और सपा प्रवक्ता, अनुराग भदौरिया बोले- यूपी के सीएम पर भी मुकदमा, जेल में डालो

मुख्तार अंसारी को लेकर पूछे गए एक सवाल पर ऐंकर और सपा प्रवक्ता एक दूसरे से भिड़ते नजर आए। ऐंकर अमिश देवगन पर पलटवार करते हुए सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने यूपी सीएम पर दर्ज मामले की याद दिलाते हुए कहा कि जेल में डाल दो सबको।

anurag bhadouria sp, tv debate, amish devgan, cm yogi, mukhtar ansari
सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया (फोटो- @anuragspparty)

एक टीवी डिबेट में ऐंकर और समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता आमने-सामने आ गए। अवध का सियासी ‘धुर्मयुद्ध’ नाम के इस कार्यक्रम में सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने ऐंकर पर एजेंडा चलाने का आरोप लगाया।

नेटवर्क 18 इंडिया के ऐंकर अमिश देवगन ने जब अपने प्रोग्राम में सपा प्रवक्ता से जब मुख्तार अंसारी और उनके मामलों को लेकर सवाल पूछा तो पलटवार में भदौरिया ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ के ऊपर लगे मामले की याद दिलाते हुए कहा कि भेजो जेल, किसने रोका है। जिसके बाद अमिश देवगन और भदौरिया के बीच तीखी बहस देखने को मिली।

अमिश देवगन ने जब बार-बार पूछा कि मुख्तार अंसारी पर आप क्या कहते हैं तो सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने भी पलटवार करते हुए कहा कि यह देश संविधान और न्यायपालिका से चलता है। जो न्यायपालिका और संविधान का अपमान करेगा…इसी बीच ऐंकर ने भदौरिया की बात को काटते हुए कहा कि मुख्तार अंसारी क्या है… क्या बात मैं सुनूं आपकी…। इसके बाद भदौरिया गुस्से में आ गए और उन्होंने कहा- “जो कानून तोड़ेगा, उसे कानून सजा देगी, चाहे वो मुख्तार अंसारी हो, अनुराग भदौरिया हो या अमिश देवगन हो”।

इसके बाद अमिश देवगन ने मुख्तार अंसारी पर लगे मर्डर के चार्ज का जिक्र करने लगे। दोनों के बीच तीखी बहस होने लगी। ऐंकर ने सपा पर मुख्तार अंसारी के साथ खड़ा होने का भी आरोप लगा दिया। जिसके बाद सपा प्रवक्ता भड़क गए और इसबार उन्होंने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ समेत विधायकों पर दर्ज मामले गिनाने लगे। भदौरिया ने कहा- “आप खड़े हो मुख्तार अंसारी के साथ, मुझे नहीं बोलने दे रहे हैं, आप मेरी बात को काट रहे हो, इससे साफ जाहिर होता है कि आप उसका एजेंडा चला रहे हो।

भदौरिया ने कहा- “उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। डिप्टी सीएम पर आपराधिक मुकदमें हैं। 114 विधायक जिनपर संगीन मुकदमें दर्ज हैं। जेल में डालो… किसने रोका आपको। न्यायपालिका में विश्वास नहीं है… न्यायपालिका सजा देगी, ना कि हम देंगे। एजेंडा चलाना बंद कीजिए। ये एजेंडा नहीं… किसी का नाम चलाकर एजेंडा चलाओ”। इसके बाद अमिश देवगन ने कहा कि कोई एजेंडा नहीं है… मुख्तार अंसारी गलत नहीं है?

इसके बाद अनुराग भदौरिया ने कहा कि जो गलत कर रहा है, उसे सजा मिलेगी। चाहे वो मुख्तार अंसारी हो या अनुराग भदौरिया हो।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट