ताज़ा खबर
 

गृह मंत्रालय ने अपनी रिपोर्ट में कर दी बड़ी गड़बड़ी, भारत-पाक की जगह दिखाया स्‍पेन-मोरक्‍को बॉर्डर

सरकार की ओर से कहा गया है कि भारतीय क्षेत्र में आतंकियों और अप्रवासियों की घुसपैठ को रोकने के लिए पाकिस्तान और बांग्लादेश से लगती हुई भारत की 647 किलोमीटर की सीमा पर फ्लडलाइट्स लगाई गई है।

Author नई दिल्ली | June 14, 2017 9:49 PM
गृह मंत्रालय की रिपोर्ट में स्पेन-मोरक्को बॉर्डर को दिखाया गया भारत पाक बॉर्डर। (Photo Source: (Source: panoramio.com)

पाकिस्तान की ओर से आंतकियों की घुसपैठ को रोकने के लिए भारत हर संभव प्रयास और मुंहतोड़ जवाब दे रहा है। इसी क्रम में घुसपैठ को रोकने के लिए भारत-पाकिस्तान पर फ्लडलाइट्स भी लगाई जा रही है। गृह मंत्रालय की ओर से इन फ्लडलाइट्स के बारे में एक वार्षिक रिपोर्ट में जानकारी दी गई । लेकिन बॉर्डर पर फ्लडलाइट्स की जानकारी देने के लिए जिस तस्वीर का इस्तेमाल किया वह स्पेन और मोरक्को बॉर्डर का है। इस मामले के सामने आने के बाद गृह सचिव ने अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा है और कहा कि अगर मंत्रालय की ओर से यह गलती हुई है तो हम उसके लिए माफी मांगेंगे।

एनडीटीवी के अपने सूत्रों के हवाले से बताया कि कथित तौर पर गृह सचिव ने इस मामले पर बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) से भी सफाई मांगी और पूछा है कि उन्हें यह तस्वीर कहां मिली। रिपोर्ट के मुताबिक गृह मंत्रालय की ओर से सफाई मांगने के बाद अब अधिकारी जवाब तलाशने के लिए हाथ-पांव मार रहे हैं। altnews.in के मुताबिक मंत्रालय की रिपोर्ट में पीली रंग की जिस स्ट्रिप को भारत-पाकिस्तान बॉर्डर बताया गया है, वह फोटो 2006 में स्पैनिश फोटोग्राफर जेवियर मोरयानो द्वारा ली गई थी। यह तस्वीर अफ्रीका के नॉर्थ कोस्ट पर मोरक्को और स्पेन बॉर्डर पर फ्लडलाइट्स और फेंसिंग को दिखाते हुए खींची गई थी।

सरकार की ओर से कहा गया है कि भारतीय क्षेत्र में आतंकियों और अप्रवासियों की घुसपैठ को रोकने के लिए पाकिस्तान और बांग्लादेश से लगती हुई भारत की 647 किलोमीटर की सीमा पर फ्लडलाइट्स लगाई गई है। यह काम व्यापक रूप से एक साल में पूरा हुआ था। एक अन्य रिपोर्ट में बताया गया है कि सरकार इन फ्लडलाइट्स को आने वाले सालों में एलईडी लाइड्स से बदल देगा। बता दें कि पाकिस्तान की ओर से आए दिन आंतकियों की घुसपैठ की खबरें आती है। हाल ही में भारत ने सीमा पार से होने वाली घुसपैठ को रोकने के लिए पाकिस्तानी चौकियों को निशाना बनाया था और उन्हें तबाह किया था। सेना की ओर से इसका वीडियो भी जारी किया गया था।

 

 

लद्दाख में 55 चीनी सैनिकों ने घुसकर नहर का काम रुकवाया; भारतीय सेना ने कहा- नहीं हुई घुसपैठ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App