ताज़ा खबर
 

‘अपनी जरूरतों का ध्यान रखकर ही दूसरे देशों को दे रहे हाइड्रोऑक्सीक्लोरोक्विन, हमारे पास इस दवाई की जरूरत से तीन गुना ज्यादा मात्रा’: स्वास्थ्य मंत्रालय

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं, कल हुए 16 हजार कोरोनावायरस टेस्ट्स में महज 2 फीसदी मामले पॉजिटिव

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: April 10, 2020 5:36 PM
स्वास्थ्य मंत्रालय के जॉइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल।

देश में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और गृह मंत्रालय ने जॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस की। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में पिछले 24 घंटे में 33 लोगों की मौत हुई, जबकि 678 नए मामले सामने आए। स्वास्थ्य मंत्रालय के जॉइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने बताया कि देश में अब तक कम्युनिटी ट्रांसमिशन शुरू नहीं हुआ है। इसलिए डरने की जरूरत नहीं है। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि गुरुवार को 16,002 लोगों का कोरोनावायरस टेस्ट किया गया। इसमें महज 2 फीसदी मामले ही पॉजिटिव आए। अब तक इकट्ठा हुए सैंपल्स के आधार पर कहा जा सकता है कि संक्रमण के मामले बढ़ने की गति बहुत ज्यादा नहीं है। इसके साथ ही अब जांच के लिए रैपिड डायग्नोस्टिक किट मुहैया कराई जा रही हैं।

विदेश मंत्रालय की ओर सचिव दमु रवि ने बताया कि कुछ देशों ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हाइड्रोऑक्सीक्लोरोक्विन दवा की मांग की थी। मंत्री समूह ने फैसला किया कि कुछ सरप्लस दवाइयों को निर्यात किया जाएगा। उन्होंने बताया कि कई देशों ने हाइड्रोऑक्सीक्लोरोक्विन की मांग की थी। इसलिए जरूरत का ध्यान रखते हुए अपने लिए जरूरी मात्रा में बफर स्टॉक बचाने के बाद हमने दवाइयों का एक्सपोर्ट किया।

Coronavirus in India LIVE Updates: यहां पढ़ें कोरोना वायरस से जुड़ी सभी लाइव अपडेट

वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय कि ओर से कहा गया कि देश में अभी के हालात को देखते हुए ज्यादा से ज्यादा 1 करोड़ हाइड्रोऑक्सीक्लोरोक्विन की जरूरत पड़ सकती है। हमारे पास पहले से ही जरूरत से तीन गुना स्टॉक यानी 3.28 करोड़ टैबलेट मौजूद हैं। जरूरत पड़ने पर 3-4 करोड़ हाइड्रोऑक्सीक्लोरोक्विन टैबलेट का उत्पादन किया जा सकता है।

Coronavirus in World LIVE Updates: यहां देखें लाइव अपडेट

विदेश मंत्रालय की ओर से बताया गया कि अब तक 20,473 विदेशी नागरिकों को उनके घर भेजा चुका है। हमें अच्छा सहयोग मिल रहा है। हालात की समीक्षा किए जाने के बाद विदेशों में फंसे और भारतीयों को लाने पर भी विचार किया जाएगा।

गृह मंत्रालय की जॉइंट सेक्रेटरी सलिला श्रीवास्तव ने बताया कि गृह मंत्री अमित शाह ने भारत-पाकिस्तान और भारत-बांग्लादेश बॉर्डर एरिया के हालात पर समीक्षा बैठक की। उन्होंने सीमा पर सुरक्षा और कड़ी करने के निर्देश दिए। खासकर उन जगहों पर जहां फेंसिंग नहीं है या जहां से क्रॉस बॉर्डर मूवमेंट हो सकता है।

इसके अलावा गृह मंत्रालय ने अप्रैल 2020 में त्योहारों को देखते हुए सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने का निर्देश दे दिया है।

Coronavirus से जुड़ी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें: जानें-कोरोना वायरस से जुड़ी हर खबर । जानिये- किसे मास्क लगाने की जरूरत नहीं और किसे लगाना ही चाहिए |इन तरीकों से संक्रमण से बचाएं क्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस? । इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेल ।  कोरोना संक्रमण के बीच सुर्खियों में आए तबलीगी जमात और मरकज की कैसे हुई शुरुआत, जान‍िए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 COVID-19 संकटः WHO ‘रिपोर्ट’ में हुई थी बड़ी गलती, अब दी सफाई- भारत में नहीं हुआ है कम्युनिटी ट्रांसमिशन
2 खुफ‍िया अलर्ट- नेपाल से 40-50 संद‍िग्‍ध मुसलमान कोरोना मरीजों के आने की खबर, जाल‍िम मुख‍िया रच रहा साज‍िश
3 सर्वे: तीन हफ्तों में 90% मजदूरों का छिना रोजगार, 94 फीसदी नहीं किसी सरकारी राहत योजना के हकदार, 17% के पास तो बैंक अकाउंट भी नहीं!