ताज़ा खबर
 

तमिलनाडु में भाजपा ने 6 महीने बर्बाद किए, सीएम पलानीस्वामी से बोले शाह; महत्वपूर्ण दौरा भी रद्द किया

नाराज़गी जाहिर करते हुए अमित शाह ने कहा था कि भाजपा ने तमिलनाडु में अपने छह महीने बर्बाद किये हैं क्योंकि संघ विचारक गुरुमूर्ति ने विश्वास दिलाया था कि वे मशहूर एक्टर रजनीकांत के साथ पार्टी का गठबंधन करा देंगे।

गृह मंत्री अमित शाह। (Express photo by Partha Paul)

भले ही शनिवार को भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने तमिलनाडु में एआईडीएमके के साथ गठबंधन जारी रखने का ऐलान कर दिया हो लेकिन इस नए गठजोड़ में सबकुछ सही नहीं हो रहा है। गृहमंत्री अमित शाह ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई के पलानीसामी को यहाँ तक कह दिया कि भाजपा ने यहाँ अपने छह महीने बर्बाद कर दिए हैं। इतना ही नहीं अमित शाह ने तो जनवरी में होने वाले अपने तमिलनाडु दौरे को भी रद्द कर दिया था।

दरअसल इंडियन एक्सप्रेस में छपे एक आर्टिकल में दावा किया गया है कि अमित शाह 14 जनवरी को चेन्नई जाने वाले थे जहाँ वे संघ विचारक एस गुरुमूर्ति की पत्रिका तुगलक के सालगिरह समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होने वाले थे। लेकिन केंद्रीय गृह मंत्री ऐन वक्त पर इस दौरे को रद्द कर अपने गृह राज्य गुजरात चले गए जहाँ वे अहमदाबाद में हो रहे पतंगबाजी उत्सव में भी शामिल हुए।  

हालाँकि इसी महीने के अंत में अमित शाह ने दिल्ली में मुख्यमंत्री पलानीसामी से मुलाकात कर अपनी नाराज़गी व्यक्त की थी। नाराज़गी जाहिर करते हुए अमित शाह ने कहा था कि भाजपा ने तमिलनाडु में अपने छह महीने बर्बाद किये हैं क्योंकि संघ विचारक गुरुमूर्ति ने विश्वास दिलाया था कि वे मशहूर एक्टर रजनीकांत के साथ पार्टी का गठबंधन करा देंगे। आपको बता दूँ कि पिछले दिनों सुपरस्टार रजनीकांत ने एक बयान जारी करते हुए राजनीति में ना आने का फैसला किया था। रजनीकांत ने कहा था कि वे चुनावी राजनीति में उतरा बिना ही जनता के लिए काम करना जारी रखेंगे।

साथ ही अमित शाह ने वी के शशिकला के एनडीए में शामिल होने के फैसले पर भी वीटो लगा दिया था। इतना ही नहीं तमिलनाडु के सड़कों पर लगे दोनों दलों के गठबंधनों के पोस्टरों से नरेन्द्र मोदी का फोटो भी गायब था। तमिल मीडिया में इस पोस्टर की चर्चा जोरों पर थी और तरह तरह के कयास भी लगाये जा रहे थे कि आखिर नरेन्द्र मोदी का फोटो इन पोस्टरों में क्यों शामिल नहीं है। आपको बता दूँ कि तमिलनाडु में सत्तारूढ़ पार्टी की नेता और दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता की करीबी रहीं वी के शशिकला पिछले दिनों कोरोना वायरस से संक्रमित हो गयीं थी। पिछले ही दिनों उनको आय से अधिक संपत्ति के मामले में जेल से रिहा किया गया था।

Next Stories
1 और वायरल ना हो रोते हुए टिकैत का वीडियो, गृह मंत्रालय ने बढ़ाया इंटरनेट बैन
2 सहायता प्राप्त विद्यालयों में भी हो सकेगी अतिथि शिक्षकों की तैनाती
3 बंबई हाई कोर्ट जज को स्थायी करने की सिफारिश वापस ली, विवादास्पद फैसलों के मद्देनजर सुप्रीम कोर्ट कॉलिजियम ने उठाया कदम
ये पढ़ा क्या?
X