ताज़ा खबर
 

PAK के आंतरिक मंत्री का बयान- हमारी सरजमीं पर होने वाली आतंकी गतिविधियों के पीछे हिंदुस्तान

पाकिस्तान के आतंरिक मामलों के मंत्री चौधरी निसार खान ने सुषमा के बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा कि पाकिस्तान में होने वाली विभिन्न आतंकवादी गतिविधियों के पीछे भारत है।
Author नई दिल्ली | September 27, 2016 11:22 am
पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री चौधरी निसार अली खान।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की ओर से कश्मीर और आतंकवाद को लेकर संयुक्त राष्ट्र में दिए गए बयान के बाद पाकिस्तान की ओर से भारत पर आरोप लगाया गया है। पाकिस्तान के आतंरिक मामलों के मंत्री चौधरी निसार खान ने सुषमा के बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा कि पाकिस्तान में होने वाली विभिन्न आतंकवादी गतिविधियों के पीछे भारत है। उन्होंने भारत पर पाकिस्तान में आतंकी गतिविधियों को समर्थन करने का आरोप लगाया है।

जियो न्यूज पोस्ट के मुताबिक भारतीय विदेश मंत्री के बयान पर पाकिस्तानी मंत्री ने कहा कि कई सालों से हमारे देश में होने वाली आतंकी गतिविधियों के पीछे भारत रहा है। उन्होंने कहा कि हमारा यह संदेश सिर्फ सुरक्षा बलों और राजनेताओं के लिए नहीं है बलकि सभी लोगों के लिए है। हम सभी को आतंकवाद के खिलाफ एक होने की जरुरत है। पाकिस्तान के आतंरिक मंत्री ने संकेत दिए कि युद्ध की स्थिति में वह भारत का सामना करने के लिए तैयार हैं। चौधरी ने उरी हमले को लेकर पीएम मोदी के बयान को लेकर भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि किसी भी देश के नेता को इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करते हुए नहीं देखा है।

गौरतलब है कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सोमवार को यूनाइडेट नेशंस के 71वें सेशन में कहा था कि हमारे बीच ऐसे देश हैं जहां संयुक्त राष्ट्र की ओर से नामित आतंकवादी स्वतंत्र रूप से विचरण कर रहे हैं और दंड के भय के बिना जहरीले प्रवचन दे रहे हैं। उनका इशारा मुम्बई आतंकी हमले के मुख्य साजिशकर्ता और जमात उद दावा के प्रमुख हाफिज सईद की ओर था। उन्होंने कहा, ‘जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा था, है और रहेगा और पाकिस्तान उसे छीनने का ख्वाब देखना छोड़ दे।’ उन्होंने ऐसे देशों को अलग थलग करने की पुरजोर वकालत की जो आतंकवाद की भाषा बोलते हों और जिनके लिए आतंकवाद को प्रश्रय देना उनका आचरण बन गया है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के बयान पर संयुक्त राष्ट्र महासभा में पाकिस्तान की स्थायी सदस्य मलीहा लोधी ने भी निशाना साधते हुए भारतीय विदेश मंत्री के बयान को झूठ का पुलिंदा करार दिया है और आरोपों को निराधार बताया है। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ा झूठ यह है कि कश्मीर, भारत का अभिन्न हिस्सा है। मलीहा ने बलूचिस्तान मुद्दा उठाए जाने को आतंरिक मामलों में दखल करार दिया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App