ताज़ा खबर
 

युवा पीढ़ी ख़ान तिकड़ी ‘शाहरुख़-आमिर-सलमान’ की पूजा न करें: साध्वी प्राची

शाहरुख खान, आमिर खान और सलमान खान की फिल्मों को हिंसा की संस्कृति को बढ़ावा देने वाला करार देते हुए भाजपा सांसद साध्वी प्राची ने युवा पीढ़ी से कहा कि वे इन फिल्मी सितारों को नहीं पूजें। साध्वी ने हिंदू संगठनों का आह्वान किया कि वे घरों की दीवारों पर लगे इन फिल्मी सितरों की […]

Author March 2, 2015 4:04 PM
साध्वी ने मुखर होकर कहा, ‘‘पंजाब की अकाली भाजपा सरकार दलितों के साथ भेद भाव करती है। यह भेदभाव न केवल आम आदमी से बल्कि मंत्री तक के साथ होता है।’’

शाहरुख खान, आमिर खान और सलमान खान की फिल्मों को हिंसा की संस्कृति को बढ़ावा देने वाला करार देते हुए भाजपा सांसद साध्वी प्राची ने युवा पीढ़ी से कहा कि वे इन फिल्मी सितारों को नहीं पूजें। साध्वी ने हिंदू संगठनों का आह्वान किया कि वे घरों की दीवारों पर लगे इन फिल्मी सितरों की फिल्मों के पोस्टर जलाएं।

भाजपा सांसद ने कल यहां विश्व हिंदु परिषद के एक कार्यक्रम में कहा कि एक बार मेरठ में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने एक युवा लड़के से पूछा कि वह जीवन में क्या बनना चाहता है। उन्होंने कहा, ‘‘लड़के ने बताया कि वह जीवन में रितिक रोशन, शाहरुख खान, आमिर खान और सलमान खान जैसा बनना चाहता है। जब मैंने उससे कारण जानना चाहा, तो लड़के की मां ने कहा कि वह ऐसा इसलिये करना चाहता है क्योंकि वे सब (फिल्मी सितारे) अच्छे स्टंट करते हैं।’’

इस संबंध में उन्होंने युवा पीढ़ी को सलाह दी कि वे इन फिल्मी सितारों से ज्यादा प्रभावित नहीं हों और उनकी पूजा नहीं करें।

अपने विवादित बयानों से चर्चा में रहने वाली भाजपा सांसद ने हिंदूवादी संगठनों का आहवान किया कि वे खान तिकड़ी की फिल्मों का बहिष्कार करें और कहा, ‘‘मैं बजरंगियों से कहूंगी कि वे शाहरुख खान, सलमान खान और आमिर खान की फिल्मों के पोस्टरों को जला दें।’’

प्राची साध्वी ने कहा, ‘‘मदर टेरेसा सेवा करने के नाम पर लोगों को इसाइयत के प्रति प्रेरित करती थीं और धर्मांतरण में लगी थीं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App