ताज़ा खबर
 

स्वरा भास्कर, हर्ष मांदर, अमानतुल्ला खान पर FIR दर्ज करने की मांग वाली याचिका पर हाईकोर्ट ने केंद्र को भेजा नोटिस, CAA के खिलाफ भड़काऊ बयान के आरोप

याचिका में दिल्ली हिंसा की जांच एनआईए से कराने की भी मांग की गई है। इस याचिका पर भी दिल्ली हाईकोर्ट ने केन्द्र सरकार व अन्य को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।

delhi communal riotदिल्ली सांप्रदायिक हिंसा में इन नेताओं पर लगे भड़काऊ बयान देने के आरोप। (फाइल फोटो)

हिन्दू सेना ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर एआईएमआईएम नेता अकबरुद्दीन ओवैसी, असदुद्दीन ओवैसी, वारिस पठान के खिलाफ कथित भड़काऊ बयानबाजी के लिए एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। इस याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने केन्द्र सरकार व अन्य को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

इसके अलावा एक वकील ने याचिका दाखिल कर सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मांदर, आरजे सायमा, स्वरा भास्कर, आप नेता अमानतुल्ला खान के खिलाफ आईपीसी और आईटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। इसके अलावा याचिका में दिल्ली हिंसा की जांच एनआईए से कराने की भी मांग की गई है। इस याचिका पर भी दिल्ली हाईकोर्ट ने केन्द्र सरकार व अन्य को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।

बता दें कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के खिलाफ भी भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगा है और हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर इनके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है।

सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मांदर और फराह नकवी की तरफ से भी दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल कर भाजपा नेताओं कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर और प्रवेश साहिब वर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है। इन नेताओं पर भी भड़काऊ बयान देने का आरोप है। इस याचिका पर भी हाईकोर्ट ने केन्द्र सरकार को नोटिस भेजा है।

हालांकि सरकार ने जवाब देने के लिए कुछ समय की मांग की है। जिसके बाद कोर्ट ने सरकार को जवाब देने के लिए 4 हफ्ते का समय दिया है। कोर्ट अब इस मामले पर 13 अप्रैल को सुनवाई करेगा।

गौरतलब है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान ही भड़काऊ बयानबाजी शुरू हो गई थी, जो कि चुनाव के बाद भी बदस्तूर जारी रही। बीते दिनों जाफराबाद-मौजपुर इलाके में सीएए विरोध और कथित सीएए समर्थक आमने-सामने आ गए, जिसके बाद हिंसा भड़क गई। इस हिंसा में अभी तक 39 लोगों की मौत की खबर है। वहीं बड़ी संख्या में लोग घायल हैं, जिनमें से कई की हालत गंभीर बनी हुई है।

दिल्ली में भड़की हिंसा के बाद दिल्ली हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को भी फटकार लगायी है। पुलिस ने दंगों की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दंगाइयों ने पहले छेड़ा, फिर मारने दौड़े तो दो बेटियों संग पहले तल्ले से कूदकर बचाई जान, अस्पताल में भर्ती महिला ने सुनाई आपबीती
2 VIDEO: भरी सभा में मंच पर गाते-गाते राष्ट्रगान भूल गए कन्हैया, गलत लाइन से पूरा किया ‘जन गण मन’
3 ‘कोर्ट को भी सच बोलने की सजा मिलने लगी है क्या?’ हाईकोर्ट जज के तबादले पर सामना में शिवसेना के तीखे बोल
यह पढ़ा क्या?
X