ताज़ा खबर
 

हिंदू महासभा ने मुस्लिम महिलाओं को बताया समाधान, ट्रिपल तलाक से परेशान हैं तो इस्लाम छोड़ अपना लें हिंदू धर्म

हिंदू महासभा की महासचिव पूजा ने कहा कि जो परेशान महिलाएं हिंदू बन जाएंगी हम ना सिर्फ उनकी दूसरी शादी करवाएंगे बल्कि उनका कन्यादान भी करेंगे।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

ट्रिपल तलाक और हलाला जैसी प्रथा से परेशान मुस्लिम महिलाओं को हिंदू महासभा की तरफ से एक बेहद अजीब समाधान दिया गया है। हिंदू सभा की महासचिव पूजा पांडे ने मुस्लिम महिलाओं को कहा है कि आपके पास न्याय पाने का एक ही रास्ता है कि आप अपना धर्म परिवर्तान करवा कर हिंदू बन जाएं। पूजा ने कहा कि अगर आपको इस देश का कानून या सरकार से किसी तरह की मदद या न्याय की उम्मीद नहीं बची है तो आप लोग मेरे पास आ जाएं। हिंदू महासभा की महासचिव पूजा ने कहा कि जो परेशान महिलाएं हिंदू बन जाएंगी हम ना सिर्फ उनकी दूसरी शादी करवाएंगे बल्कि उनका कन्यादान भी करेंगे। पूजा पांडे ने कहा कि जो महिलाएं हमारी बात से सहमत हैं उन्हें डरने की जरूरत नहीं है। जिसको भी डर लगे वो मेरे घर पर आ सकती हैंतक, मैं उन्हें पूरी सुरक्षा दूंगी।


टाइम्स नाउ की खबर के मुताबिक हिंदू महासभा की महसचिव ने ये बाते आगरा में मुस्लिम नारी उत्थान यज्ञ की समाप्ति के मौके पर यह बात कही। पूजा के इस बयान के बाद विवाद बढ़ना लाजमी था। ऑल इंडिया मुस्लिम महिला पर्सनल लॉ बोर्ड की यूपी अधघ्यक्ष शीरिन मसरूर ने हिंदू महासभा की इस अपील का विरोध किया। शीरिन ने कहा कि सिर्फ शादी के लिए धर्म परिवर्तन करवाना गलत है। अगर हिंदू महासभा वाकई में पीड़ित मुसलमान महिलाओं के लिए कुछ करना चाहती है तो उन्हे शिक्षित करने और आत्मनिर्भर बनाने में उनकी मदद करे।

सोशल वर्कर मारिया आलम ने भी पूजा पांडे की इस अपील को बकवास बताते हुए कहा कि पहले वो उन हिंदू महिलाओं के बारे में सोचें जो परेशान हैं बाद में मुस्लिम महिलाओं की चिंता करे। मारिया ने भी पूजा की अपील के रिएक्शन में हिंदू महिलाओं से अपील कर दी कि जो भी महिलाएं परेशान हैं वो इस्लाम कबूल कर लें मैं उनकी मदद करूंगी। मारिया ने ये भी कहा है कि अगर धर्म परिवर्तन ही सारी परेशानियों का हल होता तो महिलाएं बहुत पहले ही ऐसा कर लेतीं।

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- "तीन तलाक इस्लाम से जुड़ा है, आप नहीं दे सकते दखल"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App