ताज़ा खबर
 

मुस्लिम से हुआ प्यार, परिवार ने किया इनकार, हाथ पकड़ पटरी पर खड़े हो गए दोनों प्रेमी, ट्रेन गुजरते ही सब कुछ खत्म

रेलवे ट्रैक पर युवक और किशोरी एक दूसरे का हाथ पकड़े खड़े रहे। ड्राइवर हॉर्न बजाता रहे लेकिन वे नहीं हटे। ट्रेन के नीचे आकर दोनों की मौत हो गई। पता चला है कि लड़की का परिवार उन दोनों की शादी के खिलाफ था।

couple, hindu muslimहिंदू लड़की और मुस्लिम युवक ने साथ में कर ली खुदकुशी। (सांकेतिक तस्वीर)

परिवार के विरोध की वजह से प्रेमी युगल ने रेल की पटरी पर खड़े होकर जान दे दी। कोचिंग क्लास के दौरान दोनों को प्यार हो गया था और वे शादी करने चाहते थे लेकिन लड़की का परिवार मानने को तैयार नहीं था। पिता ने लड़की की सगाई भी कर दी थी। उस दौरान किशोरी ने आपत्ति नहीं की लेकिन बाद वह घर से भाग गई। एक दिन बाद ही युवक और युवती का शव रेलवे ट्रैक से बरामद किया गया।

12वीं पास कर चुकी किशोरी की मुलाकात असलम से कोचिंग क्लास के दौरान हुई थी। पहले दोस्ती हुई और फिर दोनों में प्यार हो गया। एक बार जब दोनों साथ में घूम रहे थे तभी लड़की के परिवार के एक सदस्य ने उन्हें देख लिया और पिता से शिकायत कर दी। इसके बाद लड़की की मां असलम के घर पहुंची और इसपर आपत्ति जताई।

लड़की के पिता ऑटो चलाते हैं। असलम के साथ प्रेम प्रसंग का पता चलने के बाद पिता ने किशोरी की सगाई सीहोर निवासी एक पंडित के बेटे से कर दी। उस दौरान किशोरी ने भी कोई आपत्ति नही की लेकिन शुक्रवार को वह प्रेमी असलम के साथ घर से भाग गई। उसने घर से खर्च के लिए पांच हजार रुपये भी लिए थे।

भोपाल से लापता हुई किशोरी का शव बाद में ओबेदुल्लागंज के रेलवे ट्रैक से बरामद किया गया। किशोरी के परिवार ने किडनैपिंग का केस दर्ज कराया था जबकि युवक के परिवार ने निशातपुरा में गुमशुदगी का मामला दर्ज करवाया था। पुलिस ने बताया कि लोको पायलट से मिली जानकारी के मुताबिक युवक और युवती हाथ पकड़कर रेलवे ट्रैक पर खड़े हो गए थे। ड्राइवर ने हॉर्न बजाया लेकिन दोनों ने एक दूसरे का हाथ नहीं छोड़ा और फिर ट्रेन के नीचे आकर कट गए।

बताया गया कि किशोरी किसी और से शादी नहीं करना चाहती थी लेकिन परिवार के लोग लगातार दबाव बना रहे थे। इसी वजह से युवक और किशोरी ने शाम 4 बजे के करीब जनशताब्दी एक्सप्रेस के नीचे आकर खुदकुशी कर ली। इस मामले में पुलिस ने जब छानबीन शुरू की थी तो एक कैब चालक निशाद अली ने बताया था कि 19 मार्च को असलम ने गाड़ी में एक लड़की को बिठाया था। इसके बाद वे भोजपुर पहुंचे थे और वहां से भीमबैठका चले गए। भीमबैठका के पास ही रेलवे ट्रैक से पुलिस ने युगल का शव बरामद किया था।

Next Stories
1 योग में रुचि रखने वाली नवनीत राणा के पति हैं MLA, सामूहिक विवाह समारोह में की थी शादी; जानें- क्या है दोनों से बाबा रामदेव का कनेक्शन?
2 ID कार्ड नहीं था तो पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त को नहीं डालने दिया वोट, आधार कार्ड को IIC ने नहीं माना
3 Vivo, Realme, Poco: आने वाले 8 दिनों में लॉन्च होंगी भारत में 3 फोन सीरीज, मिलेगा 108MP कैमरा
ये पढ़ा क्या?
X