ताज़ा खबर
 

‘हिंदू कोर्ट’ की स्वयंभू जज बोलीं- गोडसे से पहले मैं कर देती गांधी की हत्या

पूजा शकुन पांडे एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं और गणित की प्रोफेसर हैं। इससे पहले पूजा शकुन पांडे उस वक्त भी चर्चा में आ चुकी हैं, जब उन्होंने तीन तलाक और निकाह से पीड़ित मुस्लिम महिलाओं को हिंदू धर्म अपनाने की सलाह दी थी।

हिंदू कोर्ट की जज का कहना है कि यदि गोडसे ने गांधी की हत्या नहीं की होती तो वह कर देतीं। (image source-PTI)

अखिल भारतीय हिंदू महासभा ने देश में पहली बार अपनी तरह का एक हिंदू कोर्ट उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में स्थापित किया है। अब इस हिंदू कोर्ट की कथित जज के एक बयान खूब सुर्खियां बटोर रहा है। दरअसल इस हिंदू कोर्ट की जज पूजा शकुन पांडे का कहना है कि “यदि गोडसे ने गांधी की हत्या नहीं की होती, तो वह ऐसा कर देती।” पूजा शकुन पांडे ने कहा कि उन्हें और अखिल भारतीय हिंदू महासभा को इस बात पर गर्व है कि वह नाथूराम गोडसे की पूजा करते हैं, जिन्होंने महात्मा गांधी की 30 जनवरी, 1948 को नई दिल्ली में हत्या कर दी थी।

हिंदू कोर्ट की जज पूजा शकुन पांडे ने आज तक को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि “हां, मुझे गर्व है कि हम नाथूराम गोडसे की पूजा करते हैं। यदि गोडसे ने गांधी की हत्या नहीं की होती, तो वह ऐसा करतीं। यहां तक कि आज भी यदि कोई गांधी देश को बांटने में विश्वास करता है तो यहां एक गोडसे भी होना चाहिए।” पूजा शकुन पांडे के अनुसार, “गोडसे को सजा तब दी गई, जब भारतीय संविधान भी लागू नहीं हुआ था। लोगों को इतिहास पढ़ना चाहिए।” बता दें कि पूजा शकुन पांडे एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं और गणित की प्रोफेसर हैं। इससे पहले पूजा शकुन पांडे उस वक्त भी चर्चा में आ चुकी हैं, जब उन्होंने तीन तलाक और निकाह से पीड़ित मुस्लिम महिलाओं को हिंदू धर्म अपनाने की सलाह दी थी।

HINDU COURT हिंदू कोर्ट की जज पूजा शकुन पांडे। (Image source- youtube/Video grab image)

अखिल भारतीय हिंदू महासभा का कहना है कि देश में शरिया कोर्ट की तरह ही हिंदू कोर्ट की स्थापना की जाएगी। अखिल भारतीय हिंदू महासभा के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा का कहना है कि हिंदू कोर्ट जमीन विवाद, शादी के मुद्दों पर सुनवाई करेंगे। शर्मा के मुताबिक हिंदू कोर्ट आगामी 2 अक्टूबर से सार्वजनिक तौर पर काम शुरु कर देंगे। वहीं दूसरी तरफ इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी कर हिंदू कोर्ट के मुद्दे पर सफाई मांगी है। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने मेरठ के जिलाधिकारी को भी नोटिस जारी कर हिंदू कोर्ट के मुद्दे पर जवाब मांगा है। इस मामले पर इलाहाबाद हाईकोर्ट आगामी 11 सितंबर को सुनवाई करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App