ताज़ा खबर
 

वर्तमान और भविष्य: विदेश में सिनेमाघर बंद, हिंदी फिल्में फिर अटकीं

2020 का बुरा प्रभाव फिल्म उद्योग पर भी पड़ा। 2019 में खूब पैसा कमाने वाला उद्योग पूर्णबंदी से चरमरा गया। 2019 में तकरीबन 17 फिल्में 100 करोड़ के क्लब में शामिल हुईं, वहीं 2020 में शुरुआती दो महीने में 40 फिल्में रिलीज हुईं जिसमें सिर्फ अजय देवगन की तानाजी फिल्म ने ही अच्छा व्यवसाय किया। मार्च 2020 में अंगे्रजी मीडियम की रिलीज के बाद ही कोरोना के कारण लंबी पूर्णबंदी शुरू हो गई।

विदेश में रिलीज से होने वाली कमाई बॉलीवुड निर्माताओं के लिए अहम।

आरती सक्सेना

दुनियाभर के कई उन देशों में बहुत पहले कोरोना से राहत के कारण सामान्य जनजीवन शुरू हो गया था, जहां हिंदी फिल्मों की वैश्विक रिलीज होती है। इससे हिंदी फिल्म निर्माताओं की उम्मीदें बंधी और देश में सात माह की पूणबंदी हटने से अच्छे दिनों के संकेत मिलने लगे लेकिन अब ठंड बढ़ने के साथ ही ब्रिटेन सहित कई यूरोपीय देशों में पूर्णबंदी कर दी गई है और इससे हिंदी फिल्म निर्माताओं में फिर से मायूसी पसर गई है।

देश में महाराष्ट्र में अभी कुछ दिन पहले थियेटर खुले और फिल्म निर्माण शुरू हुआ। महाराष्ट्र ही फिल्म उद्योग की रीढ़ का काम करता है। इसलिए निर्माता लंबी-चौड़ी योजना बनाने लगे और विदेश का खुला बाजार तो उन्हें लुभा ही रहा था लेकिन ब्रिटेन, अमेरिका, मलेशिया और दूसरे देशों में कोराना की नई लहर ने सब गड़बड़ कर दिया। ब्रिटेन में एक महीने की पूर्णबंदी लागू कर दी गई है और ऐसा ही कई यूरोपीय देशों में भी हुआ।

विदेश में हिंदी फिल्मों की कमाई काफी ज्यादा होती है और ऐसे में अकेले देश के लिए फिल्म रिलीज कर देने भर से विदेशी आमदनी से हाथ धोना पड़ेगा। लिहाजा बड़े बजट की फिल्म बनाने वाले कई निर्माता, जो कि दिवाली और क्रिसमस के मौके पर अपनी फिल्मों को रिलीज करने वाले थे, उन्होंने इसे टालने का मन बना लिया है। फिर, अभी भारत में भी पाबंदियों के कारण ज्यादा दर्शक नहीं आ रहे हैं। कुछ दिन पहले ही रोहित शेट्टी अपने अंधेरी स्थित आफिस मे करण जौहर के साथ मिल कर सूर्यवंशी की रिलीज की तारीख तय करने वाले थे लेकिन अब उन्होंने अपना मन बदल लिया है।

इसी तरह रणवीर सिंह अभिनीत क्रिकेट पर आधारित फिल्म 83 का प्रमोशन एमएमआर डी ग्राउंड में रियल क्रिकेटर्स और रील क्रिकेटर्स के बीच मैच के साथ होने वाला था लेकिन जैसे ही इग्लैंड और मलेशिया और अन्य देशों से कोरोना की दूसरी लहर से पूर्णबंदी हुई, इस फिल्म का प्रमोशन रद्द कर दिया गया।

फिक्की की एक रिपोर्ट के अनुसार 2019 में 191 अरब रुपए की कमाई फिल्म उद्योग से हुई थी जिसमें 21 अरब रुपए अंतरराष्ट्रीय बाजार से मिले थे। मलेशिया, चीन, ब्रिटेन और अमेरिका में हिंदी फिल्मों काफी दर्शक हैं और यहां रिलीज से हिंदी फिल्म निर्माताओं को एक बड़ी कमाई होती है। मलेशिया हिंदी और तमिल फिल्मों के लिए बड़ा बाजार है। फिलहाल वहां सारे थियेटर बंद है, इसलिए यहां फिल्मों की रिलीज टाल दी गई है।

चीन पिछले कुछ सालों में हॉलीवुड फिल्मों के साथ भारतीय फिल्मों के सबसे बड़े बाजार के रूप में उभरा था। जहां एक ओर सलमान खान की फिल्म भारत 70 देशों में 1300 थियेटरों मे रिलीज हुई थी, वहीं आमिर खान की फिल्म दंगल ने देश में 387 करोड़ का बिजनेस किया था, वहीं अकेले चीन मे इस फिल्म ने 1200 करोड़ रुपए कमाए थे।

यही वजह है कि फिल्म निर्माता 2021 के शुरुआती तीन महीनों तक कोई फिल्म रिलीज न करने का मन बना चुके हैं। फिल्म व्यवसाय विशेषज्ञ अतुल मोहन के अनुसार विदेशी बाजार के बिना बड़े फिल्म निर्माता अपनी फिल्म रिलीज करने का जोखिम नहीं उठाएंगे। वे वक्त का इंतजार करना पंसद करेंगे। वैसे भी उद्योग को 1500 से 2000 करोड़ तक का नुकसान अब तक हो चुका है। ऐसे में ब्रिटेन, अमेरिका और मलेशिया में फिल्म रिलीज करना निर्माताओं के लिए मुश्किल ही है।

फिल्म विशेषज्ञ अतुल मोहन की बात का समर्थन करते हुए ट्रेड विशेषज्ञ तरुण आदर्श भी कहते हैं कि 2021 के शुरुआती तीन महीने उद्योग के लिए भारी हैं। विदेश में कई जगह थियेटर बंद हैं और हॉलीवुड फिल्में भी रिलीज नही हो रही हैं। ऐसे में बॉलीवुड निर्माता शायद ही जोखिम उठाएं।

फिल्म निर्माता रोहित शेट्टी के अनुसार हम हॉलीवुड की फिल्मों से अपनी तुलना नहीं कर सकते। उनके पास समय और पैसा है जिसके तहत वे अपनी फिल्म की रिलीज एक साल तक भी रोक सकते हैं। लेकिन हम ज्यादा समय तक नहीं रुक सकते हैं। हम उम्मीद कर रहे हैं कि जल्द ही विदेशी बाजार फिल्मों के लिए खुलेगा और हम भी अपनी फिल्में रिलीज कर पाएंगे।

Next Stories
1 हमारी याद आएगी: वीणा- जिनकी खूबसूरती पर फिल्म निर्माता हुए थे दीवाने
2 संबित पात्रा ने कांग्रेस पर साधा निशाना, डिबेट में बोले- ये ना हिन्दू रहे, ना मुसलमान, बीच के बनकर रह गए
3 अर्नब गोस्वामी ने अपने लिए आवाज उठाने वाले मेजर जीडी बख्शी को बताया पूज्य, चैनल पर लगाया भारत माता की जय का नारा
ये पढ़ा क्या?
X