ताज़ा खबर
 

नई सरकार की शपथः असम में सरमा बने CM; बंगाल में टीम ममता में 43 मंत्रियों में नए-पुराने का ताल-मेल

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी नीत नई सरकार के मंत्रिमंडल के कम से कम 43 सदस्यों को सोमवार को राजभवन में एक संक्षिप्त समारोह में मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। वहीं एनईडीए समन्वयक हिमंत बिस्व सरमा ने असम के 15वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली।

असम के 15वें मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी।

भारतीय जनता पार्टी (BJP) नेता हिमंत बिस्व सरमा आज असम के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उन्होने असम के 15वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में सोमवार को दिन में 12 बजे राज्यपाल जगदीश मुखी ने हिमंत बिस्वा सरमा को मुख्यमंत्री पद एवं गोपनियता की शपथ दिलाई। वहीं पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी नीत नई सरकार के मंत्रिमंडल के कम से कम 43 सदस्यों को सोमवार को राजभवन में एक संक्षिप्त समारोह में मंत्री पद की शपथ दिलाई गई।

मुख्यमंत्री सरमा के अलावा अन्य मंत्री भी शपथ ले रहे हैं। बीजेपी के 10, एजीपी के दो और यूपीपीएल के एक विधायक को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत कई अन्य वरिष्ठ नेता भी शामिल हैं। मंत्री के रूप में शपथ लेने वालों में असम बीजेपी चीफ रंजीत कुमार दास, असम गढ़ परिषद (एजीपी) चीफ अतुल बोरा, यूपीपीएल लीडर यूजी ब्रह्मा, बीजेपी नेता परिमल शुक्लबैद्य, बीजेपी नेता चंद्र मोहन शामिल हैं।

इसके अलावा एजीपी लीडर केशब महंता, बीजेपी नेता रंगोज पेगू, बीजेपी नेता संजय किशन, बीजेपी नेता जोगेन मोहन, बीजेपी नेता अजंता नियोंग, बीजेपी नेता अशोक सिंघल, बीजेपी नेता पीयूष हजारिका, बीजेपी नेता बिमल बोरा ने मंत्री पद की शपथ ली।

वहीं ममता के कैबिनेट में 9 राज्य मंत्रियों सहित कुल 43 मंत्रियों के शपथ लेने की संभावना है। कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बीच राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने एक संक्षिप्त समारोह में मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

तृणमूल कांग्रेस के अमित मित्रा, ब्रत्य बासु और रतिन घोष को डिजिटल तरीके से शपथ दिलाई गई। मित्रा इस समय अस्वस्थ हैं और बासु तथा घोष कोविड-19 से उबर रहे हैं। इनके अलावा पार्थ चटर्जी, सुब्रत मुखर्जी, फरहाद हकीम और साधन पांडेय ने समारोह में पद की शपथ ली।

इस दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्य सरकार के अधिकारी भी उपस्थित थे। बनर्जी आज दिन में सचिवालय में नये मंत्रिमंडल की बैठक ले सकती हैं और इस दौरान वह मंत्रियों को विभागों का आवंटन कर सकती हैं। नए मंत्रियों में 24 कैबिनेट मंत्री और 10 राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) शामिल हैं।

वहीं सियासी इतिहास में पहली बार बीजेपी 3 सीटों से बढ़कर 77 सीटों पर पहुंची है और मुख्य विपक्षी दल बन गई है। विधानसभा सदन में बीजेपी की ओर से शुभेंदु अधिकारी को विपक्ष का नेता चुना गया है। भाजपा ने नंदीग्राम में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को हराने वाले बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी को अपना विधायक दल का नेता चुना है।

Next Stories
1 कोरोना प्रोटोकॉल पर ये है मिसालः दौरे पर आए मंत्री-कलेक्टर को ग्रामीणों ने रोका, “सुरक्षा दीवार” के बाहर से की बात, अचरज में पड़ गए अफसर
2 लड़खड़ाए स्वास्थ्य के बावजूद लालू ने सबको चौंकाया! 85 ऑक्सीजन लेवल के साथ की तय बैठक, सांसें खींच-खींच 2 मिनट तक रखी बात
3 आगे थे कर्जदार शराब कारोबारी, पीछे भीड़ लगा रही थी नारे- “विजय माल्या चोर है, मेरा पइसा दे…”
ये  पढ़ा क्या?
X