ताज़ा खबर
 

हिमाचल के बार्डर एरिया के मुआयने के बाद बोले सीएम जयराम -उनकी सीमा पर चीन कर रहा खुद को मजबूत

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोमवार को आरोप लगाया कि चीन राज्य की सीमा पर अपने बुनियादी ढांचे का निर्माण करने की कोशिश कर रहा है।

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर। (एक्सप्रेस फोटो)।

हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति जिले के समदो में भारत-चीन सीमा क्षेत्रों का दौरा करने के कुछ दिनों बाद, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोमवार को आरोप लगाया कि चीन राज्य की सीमा पर अपने बुनियादी ढांचे का निर्माण करने की कोशिश कर रहा है जो तिब्बत के साथ संरेखित है। ठाकुर ने कहा, “यह सच है कि चीन हमारे सीमा क्षेत्र में अपने बुनियादी ढांचे को मजबूत करने की कोशिश कर रहा है, जो तिब्बत से जुड़ा है, हम केंद्र को इसके बारे में सूचित करेंगे।”

उन्होंने कहा, “उन्होंने (चीन) हमारे से अधिक ऊंचाई पर सड़क मार्ग से कुछ निगरानी गतिविधियां भी शुरू कर दी हैं।” ठाकुर ने शनिवार को सीमा के पास की सड़कों सहित कुछ निर्माण गतिविधियों की रिपोर्ट के बाद सीमावर्ती क्षेत्रों का दौरा किया। अपनी यात्रा के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए, ठाकुर ने पहले कांग्रेस के राज्य प्रमुख कुलदीप सिंह राठौर पर आरोप लगाया था कि चीन राज्य की सीमा पर बुनियादी ढांचे का निर्माण कर रहा है और उनसे सीमा से संबंधित मुद्दों पर राजनीति से दूर रहने के लिए कहा था।

हिमाचल के सीएम ने कहा कि रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण मुद्दों पर इस तरह के बयान दुर्भाग्यपूर्ण हैं। ठाकुर के हवाले से एएनआई ने कहा, “इस तरह की गलत सूचना प्रसारित करने की कोई जरूरत नहीं है।” राठौड़ ने आरोप लगाया था कि चीन राज्य की सीमा पर कंक्रीट के घर और सड़कें बना रहा है और निर्माण गतिविधियों के बीच ग्रामीणों में “असुरक्षा की भावना” पैदा हो रही है।

उन्होंने यह भी दावा किया था कि उन्होंने पिछले साल केवल राज्य के राज्यपाल और मुख्यमंत्री के साथ सीमा के पास चीनियों द्वारा इन निर्माण गतिविधियों के बारे में केंद्र को अवगत कराया था, लेकिन सरकार इन मुद्दों पर चुप रही थी।

इससे पहले सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने बताया था कि भारतीय सेना का आधुनिकीकरण सही तरीके से चल रहा है। उन्होंने उन आशंकाओं को भी खारिज कर दिया कि चीन के साथ पूर्वी लद्दाख में जारी गतिरोध के चलते वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर अधिक संसाधन खर्च करने की जरूरत है जिससे सेना के लिए नए हथियार आदि खरीदने के लिए धन की कमी हो सकती है।

Next Stories
1 बीजेपी सांसद को क्लीन चिट देने पर दिल्ली HC की ड्रग कंट्रोलर को फटकार, कानूनी पहलू पर उठाए सवाल
2 दिल्लीः लॉकडाउन में अनएडेड स्कूलों को फीस लेने से रोकने के आदेश को HC ने किया खारिज
3 नदी में शव फेंकने की खबर पर जस्टिस चंद्रचूड़ का तंज- अब चैनल पर लगेगा राष्ट्रद्रोह
ये पढ़ा क्या ?
X