अक्टूबर से शुरू होगी देश की पहली हाईस्पीड ट्रेन

देश की पहली तेज रफ्तार ट्रेन गतिमान एक्सप्रेस दिल्ली और आगरा के बीच आगामी अक्टूबर से चलने की सम्भावना है। ट्रेन को चलाने की औपचारिकतायें पूरी कर ली गई हैं

देश की पहली तेज रफ्तार ट्रेन गतिमान एक्सप्रेस दिल्ली और आगरा के बीच आगामी अक्टूबर से चलने की सम्भावना है। ट्रेन को चलाने की औपचारिकतायें पूरी कर ली गई हैं। पांच बार ट्रायल भी हो चुका है। अब केवल रेल सुरक्षा आयुक्त की हरी झण्डी मिलनी बाकी है।

इस बीच, आरडीएसओ के महानिदेशक पीके श्रीवास्तव ने बताया कि लाइनों और सिग्नल व्यवस्था को मानक के अनुसार दुरूस्त करने का काम तेजी से चल रहा है। दोनों काम पूरा हो जाने के बाद रेलवे सुरक्षा आयुक्त से क्लियरेन्स लेकर हाई स्पीड ट्रेन का संचालन शुरू किया जाएगा।

श्रीवास्तव ने बताया कि अन्तिम ट्रायल में ट्रेन ने 110 मिनट में 160 किलोमीटर की दूरी पूरी की। इसका पहला ट्रायल 3 जुलाई 2014 को पूरा हुआ था, उसके बाद 11 सितम्बर 2014 को ट्रायल हुआ। चौथा ट्रायल गत 24 दिसम्बर को हुआ। तीसरे ट्रायल में ट्रेन ने 105 मिनट में निर्धारित दूरी तय की थी।

उनका कहना था कि सिग्नल्स और ट्रैक में कुछ कमियां रह गई थी जिन्हें दुरूस्त किया जा रहा है। देश में कुछ अन्य रूटों पर गतिमान एक्सप्रेस चलाने की योजना है, जिसमें कानपुर-दिल्ली, चण्डीगढ़-दिल्ली, हैदराबाद-चेन्नई, नागपुर-विलासपुर, गोवा-मुम्बई और नागपुर-सिकन्दराबाद शामिल है। इस ट्रेन में 5400 हार्सपावर का इंजन और आधुनिक सुविधाओं युक्त 12 डिब्बे लगाए जाएंगे। इसके ड्राइवरों को विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी।

उन्होंने बताया कि इसमें लगने वालों डिब्बों में 200 किलोमीटर प्रतिघन्टे की रफ्तार से चलने की क्षमता होगी। एक डिब्बे की कीमत करीब ढाई करोड रुपये होगी और इसकी प्रत्येक सीट पर टीवी मानीटर लगा होगा। सीटों पर फायर एलार्म, इमरजेन्सी ब्रेक आदि की भी व्यवस्था होगी। शताब्दी एक्सप्रेस से इसका किराया 25 फीसदी अधिक होगा। दिल्ली से आगरा का किराया करीब 1365 रुपये होंगे।