IIM-Calcutta की पहली महिला निदेशक का इस्तीफा, बोर्ड से टकराव के चलते साल भर पहले अंजू सेठ ने छोड़ा पद

इंडियन एक्सप्रेस ने इस मामले को पहली बार 4 मार्च को तब रिपोर्ट किया था, जब बोर्ड ने प्रस्ताव पास करके महिला निदेशक की शक्तियों पर अंकुश लगा दिया था। इसके तहत भर्ती का अधिकार उनसे ले लिया गया था। उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की बात भी प्रस्ताव में कही गई थी।

IIM-Calcutta, IIM director, Anju Seth, Anju Seth resigns, First women director of IIMIIM-Calcutta की पहली महिला निदेशक अंजू सेठ ने दिया त्यागपत्र (फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

IIM-Calcutta की पहली महिला निदेशक अंजू सेठ ने त्यागपत्र दे दिया है। उनका टर्म लगभग एक साल बाद खत्म होना था। लेकिन बोर्ड ऑफ गवर्नर से टकराव के चलते उन्हें समय से पहले संस्थान को अलविदा कहना पड़ा। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, बोर्ड ने महिला निदेशक की शक्तियां काफी हद तक कम कर दी थीं। इससे वह बहुत ज्यादा आहत हो गईं।

बोर्ड ऑफ गवर्नर से टकराव की वजह से अंजू सेठ मेडिकल लीव पर चली गई थीं। उसके दो दिन बाद उनका इस्तीफा सामने आ गया। अंजू सेठ का कार्यकाल फरवरी 2022 को खत्म होना था। उन्होंने बोर्ड चेयरमैन श्रीकृष्णा कुलकर्णी पर अपने अधिकारों को सीमित करने का आरोप लगाया था। जवाब में बोर्ड ने कहा था कि अंजू सेठ ठीक व्यवहार नहीं कर रही हैं। फिलहाल उनका काम प्रशांत किशोर के हवाले किया गया है। वह संस्थान के डीन हैं।

इंडियन एक्सप्रेस ने इस मामले को पहली बार 4 मार्च को तब रिपोर्ट किया था, जब बोर्ड ने प्रस्ताव पास करके महिला निदेशक की शक्तियों पर अंकुश लगा दिया था। इसके तहत भर्ती का अधिकार उनसे ले लिया गया था। उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की बात भी प्रस्ताव में कही गई थी। मामले ने तब और तूल पकड़ लिया जब बोर्ड ने नए निदेशक के लिए विज्ञापन जारी कर दिया। यह मार्च के पहले सप्ताह में निकाला गया। IIM का संविधान कहता है कि बोर्ड निदेशक का कार्यकाल खत्म होने से 9 माह पहले ऐसा कर सकता है।

हालांकि, टकराव इससे पहले उस दौरान शुरू हो गया था, जब दिसंबर में 75% से ज्यादा फैकल्टी मेंबर्स ने शिक्षा मंत्रालय को पत्र लिखकर सेठ पर आरोप लगाया कि उन्होंने अधिकारों का केंद्रीयकरण करके उनके हितों पर कुठाराघात किया है। महिला निदेशक ने इंडियन एक्सप्रेस को ई-मेल भेजकर सारे आरोपों को गलत करार दिया था। उनका कहना था कि वह संस्थान में पारदर्शिता लाने का काम कर रही हैं। इससे कुछ लोगों को परेशानी हो रही है। उन्होंने फैकल्टी के पत्र को गलत बताया था।

अंजू सेठ को IIM-Calcutta की पहली महिला निदेशक के तौर पर नवंबर 2018 में नियुक्त किया गया था। वह 1978 में इसी विवि में अध्ययन कर चुकी हैं। उन्होंने 1988 में मिशिगन विवि से डॉक्टरेट की उपाधि हासिल की थी। 2008 में वर्जिनिया टेक विवि से जुड़ीं और 2008-13 तक डिपार्टमेंट ऑफ मैनेजमेंट की अध्यक्ष रहीं। इसके पहले वह यूनिवर्सिटी ऑफ Illinois और University यूनिवर्सिटी ऑफ Houston में अपनी सेवाएं दे चुकी हैं।

Next Stories
1 Gmail की खुद चेक करें सिक्योरिटी, जानें कितने डिवाइस में है लॉगइन, सुरक्षित रखें बैंक खाता
2 UPA का नेतृत्व NCP के पवार के पास चाहते हैं शिवसेना के राउत, बताई ये वजह; सोनिया से लेकर मोदी के लिए कही ये बातें
3 आप अपने शब्दों को मेरे मुंह में नहीं डाल सकतीं- एंकर से लाइव चर्चा के दौरान बोलीं BJP की उमा भारती, देखें- क्यों?
यह पढ़ा क्या?
X