ताज़ा खबर
 

झमाझम बारिश से लौटी ठंड

देश के लगभग सभी हिस्सों में जाड़े के इस मौसम में रविवार को दिन भर बारिश होती रही। भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि अगले 24 घंटे में उत्तर भारत के कई भागों सहित देश के विभिन्न हिस्सों में मामूली बारिश होगी। वहीं हिमालयी राज उत्तराखंड की ऊंची चोटियों पर ताजा हिमपात और निचले इलाकों […]

Author March 2, 2015 9:47 AM
‘मौसम की कई प्रणालियों की वजह से बीते 24 घंटे में देश भर में बारिश हुई।’ देश के कुछ हिस्सों में बारिश होने के साथ-साथ ओले भी गिरे। (फ़ोटो-पीटीआई)

देश के लगभग सभी हिस्सों में जाड़े के इस मौसम में रविवार को दिन भर बारिश होती रही। भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि अगले 24 घंटे में उत्तर भारत के कई भागों सहित देश के विभिन्न हिस्सों में मामूली बारिश होगी। वहीं हिमालयी राज उत्तराखंड की ऊंची चोटियों पर ताजा हिमपात और निचले इलाकों में बारिश होने से ठंड फिर लौट आई। राज्य में भारी बारिश और हिमपात की चेतावनी को देखते हुए प्रशासन सतर्क है।

एक निजी मौसम पूर्वानुमान एजंसी स्काइमेट के उपाध्यक्ष जीपी शर्मा ने बताया कि दक्षिणी प्रायद्वीप, महाराष्ट्र, राजस्थान और दिल्ली, यहां तक कि बंगलुरु सहित लगभग पूरे देश में दिन भर बारिश होती रही। जाड़े के इस मौसम में रविवार का दिन सर्वाधिक बारिश वाला दिन था।’ उन्होंने बताया, ‘मौसम की कई प्रणालियों की वजह से बीते 24 घंटे में देश भर में बारिश हुई।’ देश के कुछ हिस्सों में बारिश होने के साथ-साथ ओले भी गिरे।

ताजा पश्चिमी विक्षोभ के कारण पहाड़ी राज्यों जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश पर असर पड़ा और चक्रवाती प्रभाव के कारण हरियाणा, राजस्थान और आसपास के इलाकों में बारिश हुई। गुजरात तथा राजस्थान के कई हिस्सों में एक अन्य प्रणाली का असर पड़ा।

उधर, हिमालयी राज उत्तराखंड की ऊंची चोटियों पर ताजा हिमपात होने और निचले इलाकों में बारिश होने से ठंडक से फिर लौट आई है जबकि मौसम विभाग की ओर से राज्य के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश और हिमपात की चेतावनी के मद्देनजर प्रशासन सतर्क है। राज्य के ऊंचाई वाले जिलों चमोली, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी और पिथौरागढ़ जिले की ऊंची चोटियां रविवार सुबह से शुरू हुए ताजा हिमपात के बाद फिर सफेद हो गई हैं। बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, हेमकुंड साहिब जैसे क्षेत्रों में सुबह से ही हिमपात और निचले इलाकों में लगातार बारिश हो रही है।

राजधानी देहरादून में भी तड़के शुरू हुई बारिश अब भी जारी है। लगातार रुक-रुक कर बारिश होने से तापमान में भी गिरावट आ गई है। ठंड लौट आई है। ऊंचाई वाले इलाकों में तो शीतलहर जैसे हालात पैदा हो गए हैं। इससे सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ है।

मौसम विभाग ने शनिवार से अगले 48 घटों के लिए उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग और पिथौरागढ़ जिलों में भारी वर्षा और हिमपात की चेतावनी जारी की थी। इसके बाद मुख्य सचिव एन रविशंकर ने सभी संबंधित जिलाधिकारियों को जरूरी एहतियात बरतने की हिदायत दी है।

वहीं राजस्थान के अधिकतर हिस्सों में शनिवार रात से हो रही बारिश से यातायात और जनजीवन प्रभावित हुआ। मौसम विभाग के प्रवक्ता के मुताबिक रविवार सुबह 8 बजे तक बीकानेर में अधिकतम बारिश 21 मिलीमीटर और कोटा में 0.1 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। प्रवक्ता के मुताबिक अरब सागर से उठे पश्चिम विक्षोभ के कारण प्रदेश के अधिकतर हिस्सों में शनिवार रात से मध्यम से तेज दर्जे की बारिश दर्ज की गई है। राजधानी जयपुर में लोगों को रात से रुक-रुक कर हो रही बारिश से रूबरू होना पड़ रहा है। रविवार दोपहर 12 बजे तक 10 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। प्रदेश के कई हिस्सों में घने बादलों को कारण अधिकतम तापमान में एक से तीन डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में अधिकतर हिस्सों में बारिश होने की संभावना बताई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App