ताज़ा खबर
 

ट्रैक्टर को बना दो टैंक, किसान नेता ने किया राकेश टिकैत का समर्थन, संबित पात्रा ने कहा- इनका एजेंडा बदल गया

पुष्पेंद्र सिंह ने कहा कि यह असंवेदनशील सरकार है, यह निष्ठुर सरकार है, और किसानों पर दमनकारी नीतियों का प्रयोग कर रही है।

Farmers Protest, BJP, rakesh tikaitकेंद्र सरकार के द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शनस्थल पर बैठे आंदोलनकारी। (फोटोः PTI)

पिछले 100 दिनों से देशभर से आये किसान दिल्ली से सटे सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। किसान केंद्र सरकार द्वारा पारित किए तीनों कृषि कानून को वापस करने की मांग कर रहे हैं। केंद्र सरकार के खिलाफ जारी विरोध के बीच किसान नेताओं ने सभी पांच चुनावी राज्यों में जाने का फैसला किया है। किसान इन राज्यों में जाकर लोगों से भाजपा को वोट ना देने की अपील करेंगे। इसके अलावा राकेश टिकैत ने कहा है कि अब किसानों के ट्रैक्टर टैंक में तब्दील होंगे। इसी मुद्दे पर चर्चा के दौरान जब किसान नेता ने राकेश टिकैत के बयान का समर्थन किया तो भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने जवाब देते हुए कहा कि इनका एजेंडा बदल गया है।

दरअसल आज तक चैनल पर आयोजित एक कार्यक्रम में किसान नेता चौधरी पुष्पेंद्र सिंह ने कहा कि सरकार पिछले तीन महीने से असंवेदनशील बनी हुई है। सरकार के कान पर जू नहीं रेंग रही है. ये लोग हमारी वजहों से ही लोकसभा में 303 सीट लेकर बैठे हुए हैं। आगे पुष्पेन्द्र सिंह ने कहा कि राकेश टिकैत ने सही कहा है कि 100 दिनों में भाजपा सरकार की 100 सीट घट चुकी है। अगर आज चुनाव हो गए तो ये 203 सीट पर आकर टिक जायेंगे. वैसे भी देश मध्यावधि चुनाव की तरफ आगे बढ़ रहा है।  

इसके अलावा पुष्पेंद्र सिंह ने कहा कि यह असंवेदनशील सरकार है, यह निष्ठुर सरकार है, और किसानों पर दमनकारी नीतियों का प्रयोग कर रही है। इस सरकार के अब अंतिम दिन आ चुके हैं। साथ ही पुष्पेन्द्र सिंह ने कहा कि अगर यह आंदोलन 303 दिनों तक चल गया तो भाजपा की 0 सीटें आएँगी। इसके जवाब में भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि किसान नेता मध्यावधि चुनाव की बात कर रहे हैं। लगता है कि ये लोग कांग्रेस की बी टीम बन गए हैं। 

इसके अलावा संबित पात्रा ने कहा कि पहले तो इन लोगों के डिमांड में सिर्फ तीनों कृषि बिल थे लेकिन आज लगता है कि आप लोग एक समानांतर सरकार चलाना चाहते हैं। सरकार से कोई भी वर्ग नाराज नहीं है, बल्कि सब सरकार का साथ दे रहे हैं। संबित पात्रा के इस बात का जवाब देते हुए पुष्पेन्द्र सिंह ने कहा कि अब आपकी सरकार जाने वाली है और दूसरी सरकार आने वाली है जो इन कानूनों को वापस लेगी। क्योंकि आप हमारी वजहों से ही सरकार में बैठे हुए हैं।

आपको बता दूँ कि पिछले दिनों किसान संगठनों ने सभी पांच चुनावी राज्यों में जाने का फैसला किया है. इन राज्यों में जाकर किसान नेता लोगों से भाजपा के पक्ष में वोट ना डालने की अपील करेंगे। इसके अलावा अब किसान नेता दिल्ली की सीमाओं के अलावा देश के अलग अलग हिस्सों में भी जा रहे हैं। वहां किसान महापंचायत का आयोजन कर किसानों को केंद्र सरकार के खिलाफ लामबंद करने की कोशिश कर रहे हैं।

Next Stories
1 तमिलनाडुः AIADMK ने पहली लिस्ट में जारी किए 6 प्रत्याशियों के नाम, सीएम पलानीस्वामी एडापड्डी और डिप्टी सीएम बोदिनायकनूर से लड़ेंगे चुनाव
2 Realme GT 5G: कंपनी ने लॉन्च किया साल का पहला फ्लैगशिप स्मार्टफोन, इसमें है धांसू प्रोसेसर, जानें कीमत
3 हमारी सरकार बनी तो EVM मशीन हटा देंगे, बोले अखिलेश यादव- इतना बुरा हारेगी भाजपा, सोच नहीं सकते
ये पढ़ा क्या?
X