ताज़ा खबर
 

प्रशांत किशोर पर बोले CM नीतीश कुमार- अमित शाह के कहने पर JDU में रखा; PK का पलटवार- यह गिरा हुआ झूठ

दरअसल, किशोर ने बीते एक माह में CAA के खिलाफ कई ट्वीट्स किए। यही नहीं, उन्होंने BJP के कई नेताओं पर निशाना साधा। ऐसा तब, जब बिहार में नीतीश की पार्टी भाजपा के साथ गठबंधन की सरकार में है।

बिहार सीएम ने मंगलवार को पत्रकारों को बताया कि उन्होंने प्रशांत किशोर को अमित शाह के कहने पर JDU में रखा था। (फाइल फोटो)

बिहार के मुख्यमंत्री और JD(U) अध्यक्ष नीतीश कुमार ने पार्टी उपाध्यक्ष और चुनाव विश्लेषक प्रशांत किशोर को लेकर बड़ा दावा किया है। मंगलवार को उन्होंने बताया कि गृह मंत्री अमित शाह के कहने पर उन्होंने पीके को पार्टी में शामिल किया था। बिहार सीएम ने इसके साथ ही साफ कर दिया कि जिसे जहां जाना है, वह जा सकता है, जबकि पलटवार में किशोर ने उन्हें झूठा करार दिया और कहा कि आखिर आप की बात पर कौन यकीन करेगा?

दरअसल, किशोर ने बीते एक माह में CAA के खिलाफ कई ट्वीट्स किए। यही नहीं, उन्होंने BJP के कई नेताओं पर निशाना साधा। ऐसा तब, जब बिहार में नीतीश की पार्टी भाजपा के साथ गठबंधन की सरकार में है।

‘हम बुद्धिजीवी या बड़े नहीं बल्कि आम लोग’: ताजा मामले में नीतीश ने पत्रकारों से कहा, “किसी ने चिट्ठी लिखी, उस पर हमने जवाब दे दिया। कोई ट्वीट कर रहा है, उन्हें ट्वीट करने दीजिए। हमें उससे क्या मतलब है? जब तक जिसकी इच्छा रहेगी, वह पार्टी में रहेगा। जहां जाना चाहेगा, जाएगा। हमारी पार्टी अलग किस्म की है। हमारे यहां उसका क्या मतलब है। हम लोग सब साधारण हैं। कोई बुद्धिजीवियों और बड़े लोगों वाली पार्टी नहीं है।”

शाह के कहने पर रखा था PK को पार्टी में- नीतीशः बकौल सीएम, “हम तो इज्जत देते हैं। हम तो सबका सम्मान करते हैं, पर इन सब चीजों में अगर कोई बात है तब हमारा उससे कोई लेना-देना नहीं है।” आगे यह पूछे जाने पर कि जिनके खिलाफ ट्वीट किया जा रहा है, वह तो BJP नेता हैं। आपके सहयोगी हैं? सीएम ने जवाब दिया- छोड़िए न, उसका मतलब जहां जाना है जाए…अब वह आया कैसे? हमसे अमित शाह जी ने पार्टी में शामिल करने के लिए कहा था। अब हमसे यह सब काहे के लिए पूछते हैं? भाई, कुछ करता है, तो मन कुछ और होगा। कहीं जाने का होगा…।

पलटवार में क्या कुछ बोले PK?: हालांकि, देर शाम किशोर ने ट्वीट कर जवाब दिया और बिहार सीएम को झूठा बताया। उन्होंने लिखा, “नीतीश जी, आपने क्या झूठ बोला है कि आप मुझे किस तरह और क्यों JDU में लाए!! मुझ को अपने जैसा पेश करने की यह आपकी बुरी कोशिश है। और, अगर आप सच बोल रहे हैं, तब तब कौन आप पर विश्वास करेगा।

पवन वर्मा को लेकर पहले ही रुख साफ कर चुके हैं CM: इससे पहले, सीएम ने पार्टी नेता पवन वर्मा को लेकर भी कहा था कि जिसे जाना है, वह पार्टी से जा सकता है। सीएम नीतीश ने CAA को लेकर पार्टी के स्टैंड पर सवाल उठाने वालों को सख्त संदेश दिया था। उन्होंने कहा था कि जिसे जहां जाना है, वह वहां जा सकता है। मुझे इस पर कोई एतराज नहीं है। राजनीतिक जानकारों की मानें तो यह बयान JDU राष्ट्रीय महासचिव पवन वर्मा के संदर्भ में था। हालांकि, इस पर वर्मा ने कहा था- मैं नीतीश के बयान का स्वागत करता हूं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 BJP शासित कर्नाटक में CAA, NRC के खिलाफ छात्रों ने पेश किया नुक्कड़ नाटक, पुलिस ने सील कर दिया स्कूल
2 2012 गैंगरेप केस में एक दोषी ने लगाया बड़ा आरोप- तिहाड़ जेल में मेरे साथ हुआ यौन उत्पीड़न; अफसर देखते रहे तमाशा!
3 First Underwater Metro: पानी के नीचे चलने वाली मेट्रो का काम जल्द होने वाला है पूरा
ये पढ़ा क्या?
X