BJP शासित हरियाणा में खट्टर सरकार का फैसलाः हर जिले में बनाई जाएगी स्पेशल गोरक्षा टास्क फोर्स

राज्य स्तर पर गठित होने वाली टीम में कुल छह सदस्य और जिले स्तर की टीम में 11 सदस्य नियुक्त किए जाएंगे।

शुक्रवार को हरियाणा सरकार की तरफ से गायों की सुरक्षा के लिए बनाए जाने वाले टास्क फ़ोर्स के गठन की अधिसूचना जारी कर दी गई। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

हरियाणा की भाजपा सरकार ने गायों की सुरक्षा के लिए राज्य और जिला स्तर पर एक टास्क फ़ोर्स का गठन किया है। शुक्रवार को हरियाणा सरकार की तरफ से इसकी अधिसूचना जारी की गई। जिला स्तर पर बनाई गई टास्क फोर्स जिले के पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर काम करेगी। राज्य स्तर पर गठित होने वाली टीम में कुल छह सदस्य और जिले स्तर की टीम में 11 सदस्य नियुक्त किए जाएंगे।

हरियाणा सरकार के द्वारा जारी की गई अधिसूचना के अनुसार इस टास्क फ़ोर्स का काम गो तस्करी और गोकशी को रोकना होगा। साथ ही राज्य में आवारा घूम रहे गोवंशों का पुनर्वास करना भी होगा। हरियाणा सरकार पहले ही गोसंवर्धन एवं संरक्षण कानून लागू कर चुकी है। इसके अनुसार गो तस्करी के मामले में उम्रकैद तक की सजा का प्रावधान है। अधिसूचना जारी होने के बाद अब सभी जिलों में जल्दी ही टास्क फ़ोर्स का गठन किया जाएगा।

जिले स्तर पर बनाई गई टास्क फ़ोर्स में सरकारी सदस्यों के साथ गैर सरकारी और सामाजिक संगठनों के लोग भी शामिल किए जाएंगे। टास्क फ़ोर्स में पुलिस अधिकारी, गो सेवक, स्थानीय निकाय के अधिकारी, पशुपालन विभाग के कर्मचारी शामिल होंगे। जिला स्तर पर इस टास्क फोर्स के प्रमुख जिला उपायुक्त होंगे। साथ ही इसमें एसपी भी शामिल किए जाएंगे।

वहीं राज्य स्तर के लिए बनाई गई कमेटी के मुखिया हरियाणा गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष होंगे। उनके साथ इस कमेटी में राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग के विशेष सचिव, पशुपालन- डेयरी विभाग के सचिव या विशेष सचिव और हरियाणा पुलिस के अतिरिक्त महानिदेशक स्तर के एक अधिकारी शामिल होंगे।  साथ ही एक सदस्य हरियाणा के विधि विभाग से भी होंगे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X