ताज़ा खबर
 

हर‍ियाणा बीजेपी अध्‍यक्ष के खि‍लाफ पार्टी में ही उठी आवाज, सुब्रमण्यम स्‍वामी भी जाएंगे कोर्ट

आईएएस की बेटी का पीछा करने के आरोप में बराला के बेटे और उसके एक साथी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। बाद में दोनों को जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

Author नई दिल्ली। | August 7, 2017 3:49 PM
चंडीगढ़ में आईएएस अफसर की बेटी की कार का पीछा करने का आरोपी विकास बराला।

चंडीगढ़ में आईएएस अधिकारी की बेटी का पीछा करने और छेड़छाड़ के आरोपों में हरियाणा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला की मुश्किलें कम होते हुए नजर नहीं आ रही है। इस घटना के खिलाफ बीजेपी के अंदर से ही नेताओं ने आवाज उठानी शुरू कर दी है। बीजेपी सांसद द्वारा बराला को पद से इस्तीफा देने की बात कहने के बाद अब बीजेपी के राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी ने बीजेपी नेता के बेटे के खिलाफ कोर्ट जाने की तैयार कर ली है। इस बात की जानकारी सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्विटर पर दी। बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने आरोपियों को ‘नशे में धुत गुंडे’ बताते हुए कहा है कि वह आईएएस अफसर की बेटी के साथ छेड़छाड़ के इस मामले में पीआईएल दाखिल करेंगे।

इससे पहले कुरुक्षेत्र में बीजेपी के सांसद राजकुमार सैनी ने कहा कि बराला को नैतिक आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए। सैनी ने बराला की ओर इशारा करते हुए कहा कि अगर हमारे परिवार को कोई गलत करता है तो नैतिकता के आधार पर हमें इस्तीफा दे देना चाहिए। इस कदम से पार्टी की छवि में सुधार आएगा। हरियाणा सरकार में मंत्री रहे सैनी ने कहा कि पूर्व में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं जब लोगों ने इस इस्तीफा दिया है। सैनी के मुताबिक हरियाणा सरकार में ऊर्जा मंत्री रहे विनोद शर्मा ने बेटे का नाम जेसिका लाल मर्डर केस में आने के बाद पद से इस्तीफा दे दिया था, जबकि व्यक्तिगत रूप से उनकी गलती नहीं थी। उन्होंने कहा, ‘यह किसी आम आदमी नहीं बल्कि हमारी पार्टी के अध्यक्ष पर आरोप लगाया गया है। परिवार की जैसी बेल होती है, उस पर वैसे ही फल लगते हैं।

बता दें कि आईएएस की बेटी का पीछा करने के आरोप में बराला के बेटे और उसके एक साथी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। बाद में दोनों को जमानत पर रिहा कर दिया गया था। विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने इस मामले में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बराला के इस्तीफे की मांग की है। लड़की का आरोप है कि विकास बराला और उसका दोस्त आशीष कुमार एक पेट्रोल पंप से ही उनकी कार का पीछा कर रहे थे और कार का दरवाज़ा खोलने की कोशिश की। वहीं, पीड़ित लड़की ने फेसबुक पर अपनी आपबीती बताई। लड़की ने लिखा- “मुझे लगता है कि मैं लकी हूं कि किसी आम आदमी की बेटी नहीं हूं। क्योंकि वो लोग किसी वीआईपी का मुकाबला कैसे कर पाते। मैं लकी हूं कि मेरा रेप या मर्डर नहीं हुआ।”

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App