ताज़ा खबर
 

हर्षवर्धन ने BIS को बताया प्रतिष्ठित एजेंसी, आशुतोष ने पूछा- SC, CBI, RBI… को सम्मान दिया क्या

केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने ट्वीट कर दूषित पानी के लिए दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल को दोषी तहराया है और बीआईएस की तारीफ की है। इस पर पूर्व आप नेता आशुतोष ने उनसे पूछा कि हर्षवर्धन बताइये कौन सी संस्था है जिसे पिछले पांच सालों में आपकी सरकार ने सम्मान दिया है?

Author नई दिल्ली | Published on: November 20, 2019 10:01 PM
केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और पूर्व आप नेता आशुतोष

दिल्ली में प्रदूषित हवा के बाद अब दूषित पानी पर सियासत जारी है। भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि दिल्ली से लिये गए पानी के सभी 11 नमूने जल की गुणवत्ता मापने वाले 19 मापदंडों पर खरे नहीं उतर पाए और दिल्ली का पानी 21 राज्यों की राजधानियों में से सबसे असुरक्षित है। बीआईएस की इस रिपोर्ट पर सियासित बढ़ गई है। केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने ट्वीट कर दूषित पानी के लिए दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल को दोषी तहराया है और बीआईएस की तारीफ की है। इस पर पूर्व आप नेता आशुतोष ने उनसे पूछा कि हर्षवर्धन बताइये कौन सी संस्था है जिसे पिछले पांच सालों में आपकी सरकार ने सम्मान दिया है?

हर्षवर्धन ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए लिखा “अरविंद केजरीवाल जी जल बोर्ड के अध्यक्ष हैं। उनकी लापरवाही के कारण सैकड़ों बच्चे दूषित पानी से दिल्ली के अस्पतालों में जिंदगी व मौत से जूझ रहे हैं दिल्ली सीएम ने BIS जैसी प्रतिष्ठित संस्था को बदनाम किया है,लोगों में झूठ फैलाया है। दिल्ली सीएम अपनी इस करनी के लिए जनता से माफ़ी मांगे।” इसी के साथ केंद्रीय मंत्री ने एक और ट्वीट किया और बीआईएस को बताया प्रतिष्ठित एजेंसी बताते हुए लिखा “ऐसा प्रतीत होता है कि अरविंद केजरीवाल जी बौद्धिक दिवालियापन के शिकार हो गए हैं। बीआईएस जैसी प्रतिष्ठित एजेंसी जब सैंपल लेने जाती है,तो क्या लोगों से यह पूछती है कि वे किस राजनीतिक पार्टी से जुड़े हैं? सैंपल को लेकर केजरीवाल जी बेतुकी बातें कर रहे हैं।”

हर्षवर्धन के इस ट्वीट पर आशुतोष ने उनसे पूछा “वैसे हर्षवर्धन जी को ये बताना चाहिये कि वो कौन सी संस्था है जिसे पिछले पांच सालों में उनकी सरकार ने सम्मान दिया है ? सुप्रीम कोर्ट, चुनाव आयोग, आरबीआई, संसद, कैबिनेट, मंत्री परिषद, संघीय ढाँचा, प्रेस, मीडिया, सीबीआई, पुलिस, विपक्ष, एनएएसएसओ, लेबर ब्यूरो, क्राइम ब्यूरो आदि आदि आदि।”

बता दें दल्ली के मुख्यमंत्री ने केन्द्र सरकार के साथ राष्ट्रीय राजधानी में पानी के नमूनों के संयुक्त निरीक्षण के लिये बुधवार को दो सदस्यों को नामित किया था। केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने केजरीवाल को पानी की जांच के वास्ते दिल्ली और केन्द्र की संयुक्त टीम के लिये नाम देने के लिये कहा था। केजरीवाल ने पासवान को पत्र लिखकर दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष दिनेश मोहनिया और सदस्य शलभ कुमार को नामित किया। पासवान ने मोहनिया का नाम यह कहकर खारिज कर दिया कि वह राजनीतिक पृष्ठभूमि से आते हैं। इसपर केजरीवाल नाराज़ हो गए और उन्होंने केन्द्रीय मंत्री पर झूठ फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह दिल्ली में पानी की गुणवत्ता को लेकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 VIDEO: ‘तारीख पे तारीख…’ डायलॉग मार TET अभ्यर्थी ने पूछा मोदी सरकार से सवाल- आखिर कब चलेगा यह खेल?
2 JK में स्कूल बंदी पर पैनलिस्ट ने कहा- कहां सब चंगा है? भड़कीं एंकर का जवाब- संख्या जानते नहीं और UT पर बात कर रहे आप?
3 केंद्रीय मंत्री ने संसद में किया साफ- सोशल मीडिया से Aadhaar Card को जोड़ने का नहीं कोई प्रस्ताव
जस्‍ट नाउ
X