ताज़ा खबर
 

हरियाणा चुनाव: अपने लिए वोट मांगने निकला था भाजपा प्रत्याशी, विपक्षी पार्टी के लिए मतदान की कर बैठा अपील!

बीजेपी प्रत्याशी लीलाराम पहले INLD में थे और उनकी राजनीति की शुरुआत इसी पार्टी से हुई थी। लेकिन, 2014 में उन्होंने बीजेपी का दामन थाम लिया था।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक रूप में किया गया है। (फाइल फोटो सोर्स: द इंडियन एक्सप्रेस)

चुनावों में अक्सर अजीबो-गरीब घटनाएं हो जाती हैं। कभी नेताओं के चर्चे तो कभी उनकी जुबान से निकली बातें सुर्खियों में आ जाती है। ऐसा ही हरियाणा विधानसभा चुनाव के दौरान भी देखने को मिल रहा है। यहां भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी ने लोगों से वोट की अपील करते हुए दूसरे दल के चुनाव चिन्ह पर बटन दबाने की अपील कर डाली। यह वाकया कैथल का है। यहां लीलाराम बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। लीलाराम लोगों के बीच अपने लिए वोट मांगने पहुंचे थे। लेकिन, बीजेपी का प्रत्याशी होने के बावजूद उनकी जुबान से INLD को वोट करने की बात मुंह से निकल गई।

लीलाराम ने अपनी जुबान से जैसे ही दूसरी पार्टी के लिए वोट की अपील की, वहां जनसभा का माहौल ही बदल गया और लोग हंसी-मजाक करने लगे। हालांकि, जब उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ तब उन्होंने इसमें सुधार किया। हालांकि, लीलाराम बीजेपी से पहले INLD (इंडियन नेशनल लोकदल) में रह चुके हैं। उनकी शुरुआती राजनीति ही INLD से शुरू हुई थी। कैथल सीट से ही वह चुनाव लड़ चुके हैं। लेकिन, 2014 में वह बीजेपी में शामिल हो गए।

हरियाणा में 90 सीटों के लिए विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। यहां 21 अक्टूबर को प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला मतदाता करेंगे। जबकि, वोटों की गिनती 24 अक्टूबर को होगी। इस बीच बीजेपी को छोड़ दें तो कांग्रेस और आईएनएलडी समेत अन्य पार्टियों में गुटबाजी और तोड़फोड़ खूब देखी जा रही है। कांग्रेस में तो उसके पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर ने नाराज होकर पार्टी से इस्तीफा दे दिया। तंवर ने आरोप लगाया कि जमीन से जुड़े नेताओं की अनदेखी की जा रही है और पैसे लेकर टिकट बांटे जा रहे हैं।

अशोक तंवर के अलावा कांग्रेस में पार्टी छोड़ने वालों की फेहरिस्त और भी बड़ी है। इस क्रम में पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेश यादव, लीगल सेल के प्रदेश अध्यक्ष नवीन शर्मा, गुरुग्राम यूथ जिला अद्यक्ष, राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर महावीर, व्यापार सेल प्रदेश चेयरमैन, महिला अध्यक्ष समेत कई पदाधिकारियों ने अपना इस्तीफा दे दिया है। ऐसे में कांग्रेस में तोड़फोड़ और चौटाला परिवार के कलह का लाभ उठाने में बीजेपी पूरी तरह से जुटी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 महाराष्ट्र विधानसभा चुुनाव 2019: 114 बागियों ने बढ़ाई बीजेपी की परेशानी, CM फडणवीस कर रहे मान-मनौव्वल
2 भगवा ब्रिगेड सिपाही के भरोसे शरद पवार, तोड़ना चाह रहे 25 साल का भाजपाई किला, बनाई ऐसी रणनीति
3 महाराष्ट्र चुनाव 2019: टिकट बंटवारे को लेकर था नाराज, इसलिए पूर्व मंत्री के समर्थक ने बीजेपी उम्मीदवार की कार पर बोल दिया हमला, बाल-बाल बचे नेता
ये पढ़ा क्या?
X