ताज़ा खबर
 

हार्दिक की जमानत याचिका पर सुनवाई पूरी, फैसला सुरक्षित

शहर की एक सत्र अदालत ने बुधवार को देशद्रोह के एक मामले में पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल और उनके दो साथियों की जमानत याचिकाओं पर सुनवाई पूरी कर ली..

Author अमदाबाद | December 10, 2015 12:19 AM
पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल। (पीटीआई फाइल फोटो)

शहर की एक सत्र अदालत ने बुधवार को देशद्रोह के एक मामले में पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल और उनके दो साथियों की जमानत याचिकाओं पर सुनवाई पूरी कर ली। अदालत अपना फैसला बाद में सुनाएगी। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एनजी दवे ने जमानत याचिकाओं पर अभियोजन और बचाव पक्ष की दलीलें सुनीं। इस मामले में शुक्रवार को फैसला सुनाए जाने की संभावना है। फिलहाल जेल में बंद हार्दिक, दिनेश बामभनिया और चिराग पटेल ने पिछले महीने अपनी जमानत याचिकाएं दायर की थीं। इनके अलावा एक अन्य नेता केतन पटेल भी इस मामले के संबंध में सलाखों के पीछे है। दलीलों के दौरान हार्दिक के वकील बीएम मांगुकिया ने अदालत से कहा कि पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के हार्दिक व अन्य नेताओं के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी झूठी और राजनीतिक रूप से प्रेरित है।

उन्होंने दलील दी कि आंदोलन करना देशद्रोह नहीं होता है जबकि अपराध शाखा की ओर से 21 अक्तूबर को समिति के नेताओं के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में ऐसा जिक्र किया गया। अपराध शाखा ने हार्दिक और उनके पांच साथियों के खिलाफ सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने, देशद्रोह, विभिन्न समुदायों में वैमनस्यता फैलाने और राष्ट्रीय एकता को नुकसान पहुंचाने की धाराओं के तहत आरोप लगाया था। लेकिन गुजरात हाई कोर्ट ने इनके खिलाफ लगाए गए आरोपों में से भारतीय दंड संहिता की धाराएं 121, 153 ए और 153 बी हटा दी थीं लेकिन देशद्रोह का आरोप कायम रखा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App