ताज़ा खबर
 

Happy Baisakhi 2019 Wishes Images, Quotes, Messages: कई नामों से मनाया जाता है पर्व

Happy Baisakhi (Vaisakhi) 2019 Wishes Images, Quotes, Status, Wallpaper, SMS, Messages, Photos: सिख समुदाय में माना जाता है कि गुरु गोबिंद सिंह ने 1699 में इसी दिन से खालसा पंथ की शुरुआत की थी।

Happy Baisakhi 2019 Wishes Images, Quotes, Status: बैसाखी से सिख समुदाय नए साल की शुरुआत मानता है। (image source- quotesmassages.net)

Happy Baisakhi (Vaisakhi) 2019 Wishes Images, Quotes, Status, Wallpaper, SMS, Messages, Photos: आज देश में बैसाखी का त्योहार मनाया जा रहा है। सिख समुदाय इसे नए साल के तौर पर सेलिब्रेट करता है। बैसाखी की धूम पंजाब और हरियाणा में सबसे ज्यादा देखने को मिलती है। इस दिन रबी की फसल की कटाई होती है, इसलिए बैसाखी किसानों के लिए भी खास त्योहार होता है।

पंजाब और उत्तर भारत में इस त्योहार को बैसाखी, तो बंगाल में पोहेला बोएसाख, असम में बोहाग बिहु, केरल में विशु, तमिल में पुथान्दु के रुप में मनाया जाता है। बैसाखी का संबंध फसलों से भी है। सिख समुदाय में माना जाता है कि गुरु गोबिंद सिंह ने 1699 में इसी दिन से खालसा पंथ की शुरुआत की थी। सिख समुदाय इस त्योहार को पूरे धूमधाम से मनाता है। सिख समुदाय बैसाखी के अवसर पर नगर कीर्तन का आयोजन भी करता है, जिसमें बड़ी संख्या में लोग हिस्सा लेते हैं।

इस दिन लोग सुबह स्नान आदि के बाद नए कपड़े पहनकर गुरुद्वारे जाते हैं और वहां होने वाली खास प्रार्थनाओं में शरीक होते हैं। अरदास (प्रार्थना), कीर्तन के बाद भक्तों में कड़ा प्रसाद वितरित किया जाता है। इसके बाद लंगर में लोग खाना खाते हैं। बताया जाता है कि बैसाखी के दिन ही मुगल बादशाह औरंगजेब ने गुरु तेग बहादुर को इस्लाम कबूल ना करने के चलते उत्पीड़न के बाद उनकी हत्या करवा दी थी।

Live Blog

21:58 (IST)14 Apr 2019

अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में यूं मनाया गया बैसाखी का पर्व। 

21:31 (IST)14 Apr 2019
यह गाना है मशहूर

रंजीत बावा का पंजाबी गाना 'जट्ट मेले आ गया' बैसाखी के लिए पॉपुलर है। तीन साल पहले आए इस गाने को आज भी बहुत पसंद किया जाता है। बैसाखी के दिन यह गाना कई जगहों पर बजाया जाता है। ये एक डांस नंबर है।

21:05 (IST)14 Apr 2019
कई घरों में बनती है मावे की खीर

बैसाखी के दिन कई घरों में कुछ मीठा खाने की परंपरा रही है। इस दिन मावे की खीर भी बनाई जाती है। हम आपको बताते हैं कि यह खीर आप कैसे बना सकते हैं। 

सबसे पहले दूध को अच्छे से गर्म कर लें। अब इसमें सारे सूखे मेवे और मखाना डाल दें।कुछ देर तक इन्हें पकने दें। ध्यान रखें थोड़ी थोड़ी देर में खीर को चलाते रहें, जिससे दूध बर्तन से चिपके नहीं।जब दूध उबलकर गाढ़ा हो जाए और तीन चौथाई रह जाए, तब इसमें चीनी मिलाएं और पांच मिनट तक पकाएं।अब गैस बंद कर दें। इसमें इलायची पाउडर और केसर डालकर अच्छी तरह मिलाएं।आपकी खीर बनकर तैयार है। आफ चाहे तो गर्म-गर्म सर्व करें या फिर फ्रिज में रखकर ठंडा सर्व करें

20:30 (IST)14 Apr 2019
बैसाखी की शुभकामनाएं

सुनहरी धूप बरसात के बाद, थोड़ी सी ख़ुशी हर बात के बाद, उसी तरह हो मुबारक आपको, ये नई सुबह कल रात के बाद

20:00 (IST)14 Apr 2019
भेजें यह बधाई संदेश

अन्नदाता की खुशहालीऔर समृद्धि के पर्वबैसाखी पर आप सभी कोढेर सारी शुभकामनाएं और बधाइयां

19:39 (IST)14 Apr 2019
ढोल नगाड़ों के साथ मनाते हैं बैसाखी

बैसाखी के दिन लोग ढोल-नगाड़ों पर नाचते-गाते हैं। गुरुद्वारों को सजाया जाता है, भजन-कीर्तन कराए जाते हैं। लोग एक-दूसरे को नए साल की बधाई देते हें। घरों में कई तरह के पकवान बनते हैं और पूरा परिवार साथ बैठकर खाना खाता है।

19:03 (IST)14 Apr 2019
विशाखा नक्षत्र से पड़ा बैसाखी नाम

बैसाखी के समय आकाश में विशाखा नक्षत्र होता है। विशाखा नक्षत्र पूर्णिमा में होने के कारण इस माह को बैसाखी कहते हैं। इस दिन सूर्य मेष राशि में प्रवेश करता है इसलिए इसे मेष संक्रांति भी कहते हैं।

18:30 (IST)14 Apr 2019
इन राज्यों में अलग है नाम

असम में बैसाखी को बीहू, तो बंगाल में पोइला बैशाख के तौर पर मनाते हैं। इस त्योहार को तमिलनाडु में पुथांडू, केरल में पूरन विशु और बिहार तथा नेपाल में सत्तू संक्रांति के रूप में मनाया जाता है। एक अन्य मान्यता है कि मोक्षदायिनी गंगा इसी दिन धरती पर उतरी थीं।

18:03 (IST)14 Apr 2019
खालसा पंथ की हुई थी स्थापना

सिख समुदाय 14 अप्रैल को बैसाखी का पर्व मना रहा है। यह पर्व सिखों के नए साल के तौर पर ही नहीं बल्कि इस दिन उनके अंतिम गुरु गोबिंद सिंह ने खालसा पंथ की स्‍थापना भी की थी। सिखों के 10वें गुरू श्री गुरु गोबिन्द सिंह जी द्वारा 1699 में पवित्र शहर आनन्दपुर साहिब में अलग-अलग जातियों से सम्बन्धित पांच प्यारों को अमृत छका कर खालसा पंथ की स्थापना की थी।

17:48 (IST)14 Apr 2019
भेजें यह मैसेज

सुनहरी धूप बरसात के बाद,थोड़ी सी खुशी हर बात के बादउसी तरह हो मुबारक आपको ये नई सुबह कल रात के बादहैप्पी बैसाखी!

14:57 (IST)14 Apr 2019
बैसाखी का त्योहार किसानों के लिए भी बेहद खास है

13:43 (IST)14 Apr 2019
पंजाब, हरियाणा समेत देश के विभिन्न हिस्सों में मनाया जा रहा है बैसाखी का त्योहार

12:06 (IST)14 Apr 2019
बैसाखी के लिए शानदार वॉलपेपर

11:15 (IST)14 Apr 2019
बैसाखी के अवसर पर स्वर्ण मंदिर के पवित्र सरोवर में डुबकी लगाते श्रद्धालु
11:03 (IST)14 Apr 2019
Happy Baisakhi

(image source-usalllifefestival.com)

10:11 (IST)14 Apr 2019
बैसाखी का शुभकामना संदेश

खुशबू आपकी यारी की हमें महका जाती है,

आपकी हर एक की हुई बात हमें बहका जाती है,

सांसें तो बहुत देर लगाती हैं आने-जाने में, 

हर सांस से पहले आपकी याद आ जाती है

बैसाखी मुबारक हो

09:36 (IST)14 Apr 2019
नाचों, गाओं खुशी मनाओं...

नच ले गाले हमारे साथ

आयी है बैसाखी खुशियों के साथ

मस्ती में झूम और खीर पूडी खा

और न कर तू दुनिया की परवाह

09:13 (IST)14 Apr 2019
अन्नदाता की खुशहाली का त्योहार बैसाखी

अन्नदाता की खुशहालीऔर समृद्धि के पर्वबैसाखी पर आप सभी कोढेर सारी शुभकामनाएं और बधाइयां

08:54 (IST)14 Apr 2019
इस मैसेज से दें बैसाखी की शुभकामनाएं

सुनहरी धूप बरसात के बाद,थोड़ी सी खुशी हर बात के बादउसी तरह हो मुबारक आपको ये नई सुबह कल रात के बादहैप्पी बैसाखी!

08:53 (IST)14 Apr 2019
इस तस्वीर से दें बैसाखी की शुभकामनाएं

08:32 (IST)14 Apr 2019
बैसाखी का शुभकामना संदेश

नए दौर, नए युग की शुरुआत,सत्‍यता, कर्तव्‍यता हो सदा साथ,बैसाखी का यह सुंदर पर्व,सदैव याद दिलाता है मानवता का पाठबैसाखी की शुभकामनाएं

08:09 (IST)14 Apr 2019
'बैसाखी आयी, खुशी मनाओ'

बैसाखी आई, साथ में ढेर सारी खुशियां लाईतो भंगड़ा पाओ, खुशी मनाओमिलकर सब बंधु भाईबैसाखी की शुभकामनाएं

08:08 (IST)14 Apr 2019
बैसाखी के लिए मैसेज

खालसा मेरो रूप है खास,खालसे में करूं निवास,खालसा मेरा मुख है अंगाखालसे के साजना दिवस की आप सब को बधाई

07:51 (IST)14 Apr 2019
बैसाखी की शुभकामनाएं

(image source-whatsappgreetings.com)