Hanuman Jayanti पर PM मोदी ने कहा- कोरोना के खिलाफ मिलता रहे बजरंगबली का आशीर्वाद, लोग बोले- धर्म भी हमें नहीं बचा पा रहा है

प्रधानमंत्री ने ट्वीट में लिखा कि हनुमान जयंती का पावन अवसर भगवान हनुमान की करुणा और समर्पण भाव को याद करने का दिन है। मेरी कामना है कि कोरोना महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई में निरंतर उनका आशीर्वाद प्राप्त होता रहे।

Hanuman Jayanti ,PM Modi,Coronaप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

हनुमान जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि कोरोना के खिलाफ बजरंगबली का आशीर्वाद मिलता रहे। प्रधानमंत्री के ट्वीट के जवाब में लोगों की तरफ से तरह-तरह के जवाब आने लगे कुछ लोगों ने कहा कि धर्म भी हमें कोरोना से नहीं बचा पा रहा है।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट में लिखा कि हनुमान जयंती का पावन अवसर भगवान हनुमान की करुणा और समर्पण भाव को याद करने का दिन है। मेरी कामना है कि कोरोना महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई में निरंतर उनका आशीर्वाद प्राप्त होता रहे। साथ ही उनके जीवन और आदर्शों से हमेशा प्रेरणा मिलती रहे। जवाब देते हुए एक ट्विटर यूजर (@MoulikaMehta) ने लिखा कि हमारे धार्मिक ज्ञान आज हमें नहीं बचा रहे हैं। सब लोग मर रहे हैं। धर्म भी हमें नहीं बचा रहा है।

एक अन्य, अमित नाम के यूजर (@Ikumar7) ने लिखा कि अगर हनुमान जी किसी बच्चे को कोरोना से उसका जीवन नहीं बचा सकते तो, क्यों मनाये ये सब? वहीं वानकशोक नाम के एक यूजर (@Vankashok1) ने अमित शाह पर निशाना साधते हुए लिखा कि बाप बंगाल में बेटा आईपीएल में और देश आईसीयू में।

नितिन मेश्राम नाम के यूजर (@jaibhimworld) ने प्रधानमंत्री से त्यागपत्र की मांग की उन्होंने लिखा कि आपकी सरकार में लोगों का नरसंहार, मौत, संकट, घृणा, , बेरोजगारी, सरकारी संस्थानों पर हमले हुए हैं। आप भारत के लिए सबसे अशुभ व्यक्ति हैं, अब आप इस्तीफा दें!

बताते चलें कि देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ रही है। मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार देश में पिछले 24 घंटे में 3 लाख 23 हजार 144 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 2771 मरीजों की मौत हुई है। पिछले साल से लेकर अबतक कोविड-19 से 1,97,894 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में अभी एक्टीव मरीजों की संख्या 28 लाख 82 हजार 204 हो गयी है। कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, गुजरात और राजस्थान उन दस राज्यों में शामिल हैं, जहां कुल कोविड मामलों में से 69.1 प्रतिशत मामले सामने आए हैं।

Next Stories
1 बड़ा गड़बड़झाला? कोरोना से दिल्ली में 1000 मौतों का डेटा कागजों में ‘गायब’, निगम के आंकड़ों के हवाले से चैनल का दावा
2 कोरोना से बरखा दत्त के पिता का निधन, बोलीं- मैं फेल हो गई; जानें- कौन थे एसपी दत्त
3 कोरोना की मारामारी के बीच स्ट्रेचर तक न हो रहा है नसीब, मरीज को अस्पताल से लाने को अंदर ले पहुंचे स्कूटी, VIDEO वायरल
यह पढ़ा क्या?
X