ताज़ा खबर
 

हाफिज सईद के नाम पर बने अकाउंट से #PakStandsWithJNU को ट्रेंड कराने की अपील

देशद्रोही नारेबाजी का एक वीडियो भी सामने आया है। जेएनयू के ही छात्रों ने ही इसे जारी किया है जो कि अब सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया है।

Author नई दिल्‍ली | February 13, 2016 7:13 PM
जमात-उद-दावा (जेयूडी) प्रमुख हाफिज सईद। (फाइल फोटो)

जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय (जेएनयू) में कथित तौर पर पाकिस्‍तान जिंदाबाद का नारा लगाने वाले छात्रों के समर्थन में आतंकी हाफिज सईद के नाम से बने एक अकाउंट से ट्वीट किया गया है।

@HafeezSaeedJUD ने ट्वीट किया है- ‘हम अपने पाकिस्‍तानी भाइयों से गुजारिश करते हैं कि जेएनयू के पाकिस्‍तानपरस्‍त भाइयों के समर्थन में #SupportJNU को ट्रेंड कराएं।’ उसने अपने ट्वीट में #PakStandWithJNU भी लिखा। हालांकि, बाद में यह अकाउंट डिएक्टिविकेट भी कर दिया गया। इस अकाउंट से जारी कि

सईद के ट्वीट के बाद टि्वटर पर आम यूजर्स की भी काफी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। ABAS MAKHDOOMI ‏@SobMaddy ने ट्वीट किया- ‘शायद उन्‍हें पता चल गया है कि वे #SupportJNU के जरिए क्‍या कर रहे हैं।’ बता दें कि देशद्रोही नारेबाजी का एक वीडियो भी सामने आया है। जेएनयू के ही छात्रों ने ही इसे जारी किया है जो कि अब सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया है। जेएनयू प्रशासन ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं। वहीं, कुछ छात्रों ने अफजल गुरु के समर्थन में नारेबाजी की थी। इसके बाद स्‍टूडेंट्स आपस में भिड़ गए थे।

यूनिवर्सिटी के साबरमती ढाबा पर दस छात्रों ने एक कार्यक्रम का आयोजन किया था। यह कार्यक्रम अलगाववादी नेता मकबूल भट्ट और अफजल गुरु को दी गई फांसी के खिलाफ आयोजित की गई थी। कार्यक्रम का उद्देश्‍य ‘कश्‍मीरियों को खुद के फैसले लेने के अधिकार’ दिए जाने लेकर आवाज उठाना भी था। आयोजनकर्ताओं को शुरुआत में कार्यक्रम के लिए इजाजत मिल गई, लेकिन बीजेपी की छात्र विंग एबीवीपी के विरोध के बाद मंजूरी वापस ले ली गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App