ताज़ा खबर
 

Gurugram Unlock Guidelines: 29 जून से खुलेंगे शॉपिंग मॉल्स, क्या कर सकेंगे लोग और क्या नहीं? जानें

शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव द्वारा जारी एक आदेश के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में गुरुग्राम और फरीदाबाद के जिला प्रशासनों को मॉल फिर से खोलने की अनुमति दी गई है।

Gurugram Unlock Guidelines, Gurugram Unlock Guidelines, Gurugram Shopping Mall Guidelinesएनसीआर के कुछ इलाकों में खुल चुके शॉपिंग मॉल्स में पीपीई सूट पहनकर लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग करता हुए सिक्योरिटी गार्ड। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः गजेंद्र यादव)

हरियाणा सरकार ने कोरोना वायरस प्रकोप से निपटने के लिए लगे लॉकडाउन के तीन महीने बाद एक जुलाई से गुरुग्राम और फरीदाबाद में शॉपिंग मॉल खोलने की अनुमति दे दी है। गुरुग्राम जिला प्रशासन ने कहा कि वह कुछ प्रतिबंधों के साथ मॉल को फिर से खोलने पर राज्य सरकार के फैसले को लागू करेगा, जबकि फरीदाबाद प्रशासन सोमवार को एक बैठक में इस मामले पर अंतिम फैसला लेगा।

शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव द्वारा जारी एक आदेश के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में गुरुग्राम और फरीदाबाद के जिला प्रशासनों को मॉल फिर से खोलने की अनुमति दी गई है। हरियाणा सरकार पहले गुरुग्राम और फरीदाबाद को छोड़कर, राज्य भर में 7 जून से मॉल को फिर से खोलने की अनुमति दे चुकी है। इन दोनों जिलों में कोविड-19 के मामले अधिक हैं।

शनिवार को जारी स्वास्थ्य विभाग के एक बुलेटिन के अनुसार, राज्य के कुल 13,427 कोविड-19 मामलों में से 5,070 मामले गुरुग्राम में हैं, जबकि फरीदाबाद में 3,325 मामले हैं। राज्य में संक्रमण के कारण हुई 218 मौतों में से 83 गुरुग्राम में और 71 फरीदाबाद में हुई हैं।

संपर्क करने पर गुरुग्राम के जिला आयुक्त अमित खत्री ने कहा कि प्रशासन मॉल खोलने पर राज्य सरकार के आदेश को लागू करेगा। फरीदाबाद के जिला आयुक्त यशपाल यादव ने हालांकि कहा कि जिला प्रशासन इस मामले पर अंतिम निर्णय सोमवार को होने वाली बैठक में लेगा।

जानें, क्या चीजें होंगी मॉल के अंदर जरूरीः

– 65 साल से अधिक के लोगों, विभिन्न किस्म की गंभीर बीमारियों से ग्रसित, गर्भवती महिलाएं और 10 साल से छोटे बच्चे घर पर ही रहें। हालांकि, वे जरूरी और स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं के लिए आ सकेंगे, पर पूरे ऐहतियात बरतते हुए।
– कम से कम छह फुट की सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूरी।
– मॉल परिसर में फेस मास्क/कवर भी अनिवार्य।
– खांसी या छींक आने के दौरान कपड़े से मुंह/नाक को ढंके। कपड़े, रुमाल या फिर कोहनी का यूज करें, ताकि थूक या छींक के ड्रॉपलेट्स कहीं और न गिरें।
– आरोग्य सेतु ऐप भी डाउनलोड कर उससे ताजा हेल्थ स्टेटस लें। सेल्फ मॉनिटरिंग।
– एंट्री के दौरान थर्मल स्क्रीनिंग और हैंड हाइजीन (सैनिटाइजर का इस्तेमाल) का इस्तेमाल भी।
– केवल बगैर लक्षणों वाले लोगों की ही एंट्री होगी।
– पार्किंग लॉट में क्राउड मैनेजमेंट सही से किए जाने की बात पर बल दिया गया है। Valet Parking अगर चलेगी, तब स्टाफ के लिए मास्क/कवर और ग्लव्स अनिवार्य होंगे। स्टियरिंग, गाड़ियों के दरवाजे और चाभियों को सैनिटाइज किया जाएगा।
– मॉल परिसर में (अंदर या बाहर) कोई भी दुकान, स्टॉल और कैफेटेरिया आदि में हर वक्त लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा।
– सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए जगह जगह चिह्न/स्पॉट्स/घेरे बनाए जाएंगे, जिनकी मदद से लोग सामाजिक दूरी का आसानी से पालन कर पाएंगे।
– मॉल आने वालों, कर्मचारियों और सामान लाने-ले-जाने वालों के लिए एग्जिट और एंट्री गेट्स अलग होंगे।
– जहां बैठने की व्यवस्था होगी, वहां भी सोशल डिस्टेसिंग जरूरी रहेगी। एलीवेटर पर एक वक्त पर बताई गई संख्या के हिसाब से ही लोगों को जाने दिया जाएगा। दो-तीन सीढ़ी छोड़ लोगों को एलीवेटर का यूज करने के लिए कहा जा सकता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 संबित पात्रा ने शेयर की सोनिया के हाथ में गिलास वाली फ़ोटो, राजीव शुक्ला ने दिया जवाब
2 जब अटल बिहारी वाजपेयी ने एक राज खोलते हए कहा था- पोखरण परमाणु परीक्षण का श्रेय नरसिम्हा राव को जाता है
3 नक्शा विवादः भारत में रची जा रही मेरी सरकार गिराने की साजिश, हो रहीं बैठकें- बोले नेपाली PM केपी शर्मा ओली