ताज़ा खबर
 

गुरुदास कामत का निधन, इस्‍तीफे के बाद भी कांग्रेस उन्‍हें मानती रही महासचिव

गुरुदास कामत मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष भी रह चुके थे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि वरिष्ठ कांग्रेसी नेता श्री गुरुदास कामत के असमय निधन की खबर सुनकर दुखी और सदमे में हूं।

कांग्रेसी नेता गुरुदास कामत। (image source-ANI)

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री गुरुदास कामत का दिल्ली के एक अस्पताल में बुधवार को निधन हो गया है। खबर के अनुसार, उन्हें हार्ट अटैक के बाद चाणक्यपुरी स्थित प्राइमस अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उनका निधन हो गया। वह 63 साल के थे। गुरुदास कामत मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष भी रह चुके थे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि वरिष्ठ कांग्रेसी नेता श्री गुरुदास कामत के असमय निधन की खबर सुनकर दुखी और सदमे में हूं। उनका निधन हमारे लिए अपूरणीय क्षति है। उनके परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं, भगवान उन्हें इस दुख की घड़ी को सहने की शक्ति दे। उनकी आत्मा को शांति मिले।

कांग्रेस ने गुरुदास कामत को गुजरात, राजस्थान, दादर एवं नगर हवेली, दमन दीव का प्रभार सौंपा था। हालांकि साल 2017 में कामत ने कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था। हालांकि पार्टी ने उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया और कांग्रेस बाद में भी उन्हें पार्टी का महासचिव मानती रही। गुरुदास कामत यूपीए-2 के कार्यकाल में केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री रह चुके थे। इसके साथ ही साल 2011 में उन्हें केन्द्रीय सूचना प्रसारण राज्यमंत्री भी बनाया गया था।

गुरुदास कामत मुंबई की उत्तरी पश्चिमी संसदीय सीट से साल 2009 में सांसद भी चुने गए थे। उससे पहले कामत मुंबई की उत्तरी पूर्वी संसदीय सीट से साल 1984, 1991, 1998 और साल 2004 में भी सांसद रह चुके थे। कामत कॉमर्स स्नातक थे और मुंबई के गवर्नमेंट लॉ कॉलेज से कानून की पढ़ाई कर चुके थे। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी ट्वीट कर गुरुदास कामत की मौत पर दुख प्रकट किया है। इसके अलावा महाराष्ट्र यूथ कांग्रेस के नेता सत्यजीत तांबे पाटिन ने कामत के निधन को निजी क्षति बताया और कहा कि उनके नेता गुरुदास कामत नहीं रहे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App