ताज़ा खबर
 

छात्रों के प्रोटेस्ट मार्च से अलग हुईं गुरमेहर कौर, कहा- मुझे अकेला छोड़ दो, बहुत सह लिया

गुरमेहर कौर रामजस कॉलेज विवाद मामले में एबीवीपी पर सोशल मीडिया के जरिए टिप्पणी करने के बाद सुर्खियों में आई थी

20 साल की गुरमेहर कौर डीयू के लेडी श्रीराम कॉलेज में इंग्लिश (ऑनर्स) की छात्रा हैं।

रामजस कॉलेज विवाद मामले में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) पर सोशल मीडिया के जरिए टिप्पणी करने के बाद सुर्खियों में आई गुरमेहर कौर के समर्थन पर दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और छात्र मंगलवार को एक प्रोटेस्ट मार्च निकालने वाले हैं। हालांकि गुरमेहर कौर ने इस अभियान से अलग होने का फैसला किया है और कहा है कि उन्हें अकेला छोड़ दिया जाए। गुरमेहर ने यह बातें मंगलवार सुबह अपने ट्विटर हैंडल पर कहीं। उन्होंने कहा, “मैं अभियान से अलग हो रही हूं। आप सभी को बधाई। मुझे अकेला छोड़ दो। मैंने वही कहा जो कहना चाहिए था। मैं काफी कुछ सह चुकी हूं। 20 साल की उम्र में इससे ज्यादा सहने की ताकत नहीं है।”

अभियान के बारे में बोलते हुए गुरमेहर ने लिखा, “यह अभियान छात्रों के बारे में ना सिर्फ मेरे बारे में। प्लीज बड़ी संख्या में जाईए और मार्च में हिस्सा लीजिए। बेस्ट ऑफ लक।” विरोधियों को जवाब देते हुए उन्होंने लिखा, “जो लोग भी मेरी बहादुरी और साहस को लेकर सवाल उठा रहे हैं उन्हें बता दूं कि मैने जरूरत से ज्यादा बहादुरी दिखाई। लेकिन एक बात तो पक्की है, अगली बार हिंसा और धमकियों के खिलाफ बोलने से पहले हम दो बार सोचेंगे।”

कौन हैं गुरमेहर कौर, क्यों आई विवादों में-

20 साल की गुरमेहर कौर डीयू के लेडी श्रीराम कॉलेज में इंग्लिश (ऑनर्स) की छात्रा हैं। गुरमेहर के पिता कारगिल की जंग में शहीद हो गए थे। उन्‍होंने रामजस कॉलेज में हिंसा के बाद फेसबुक पर कैंपेन चलाया था कि जिसमें उन्होंने लिखा था, “वह एबीवीपी से डरती नहीं हैं और उनके साथ पूरे देश के छात्र हैं।” गुरमेहर के मुताबिक इस कैंपेन के बाद उन्हें रेप की धमकियां मिली हैं। गुरमेहर के चर्चाओं में आने के बाद उनकी एक वीडियो भी सामने आई, जिसमें उनका कहना था कि “पाकिस्‍तान ने उनके पिता की जान नहीं ली बल्कि युद्ध ने ली।” उनके इस बयान पर पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने परोक्ष रूप से निशाना भी साधा था और कहा था – “मैंने दो ट्रिपल सेंचुरीज नहीं लगाईं, मेरे बैट ने लगाईं।”

DU बचाओ कैंपेन से अलग हुई गुरमेहर कौर; कहा- "मुझे अकेला छोड़ दो"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App